scriptOpen gate of all demos, Madhya Pradesh in alert mode | पानी-पानी मध्यप्रदेश, सभी डेमों के गेट खुले, कई इलाकों में बारिश का अलर्ट | Patrika News

पानी-पानी मध्यप्रदेश, सभी डेमों के गेट खुले, कई इलाकों में बारिश का अलर्ट

मध्यप्रदेश में भारी बारिश से पानी की आवक दिन-ब-दिन बढ़ रही है, ऐसे में प्रदेश में स्थित अधिकतर डेमों के गेट खोल दिए हैं,

भोपाल

Updated: July 24, 2022 10:22:06 pm

भोपाल. मध्यप्रदेश में भारी बारिश से पानी की आवक दिन-ब-दिन बढ़ रही है, ऐसे में प्रदेश में स्थित अधिकतर डेमों के गेट खोल दिए हैं, एक तरफ भारी बारिश, तो दूसरी तरफ डेमों से पानी छोडऩे से कई निचली बस्तियों और डेमों के समीप रहने वाले लोगों को अलर्ट कर दिया है कि वे तुरंत सुरक्षित स्थानों पर पहुंच जाएं, ताकि किसी प्रकार की आपातकालीन स्थिति नहीं बनें।
alert.jpg
आपको बतादें कि प्रदेश में हर साल अगस्त सितंबर माह में डेमों के गेट खोले जाते हैं, लेकिन इस बार हो रही भारी बारिश के चलते प्रदेश के अधिकतर डेमों के गेट जुलाई के दूसरे सप्ताह से ही खुलने लगे हैं, अधिकतर डेमों के गेट खुल जाने से जहां लोग प्रकृति का लुत्फ लेने पहुंच रहे हैं, वहीं कई डेमों से निकल रहे भयंकर पानी से लोग काफी परेशान हो चुके हैं, क्योंकि उनके घर आंगन में भी जल भराव हो गया है।
photo_2022-07-16_09-22-07.jpg

तवा डेम-नर्मदापुरम जिले में स्थित तवा डेम के गेट खुले कई दिन हो गए हैं, यहां शुरूआत से ही सारे गेट खोल दिए गए हैं, इस कारण काफी मात्रा में पानी छूटने के कारण कई गांव और निचली बस्तियां जलमग्न हो गई है। ऐसे में लोगों को अलर्ट रहने के लिए कहा गया है, वहां प्रशासन ने भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर लिया है।

कलियासोत डेम के 9 गेट खुले-राजधानी भोपाल स्थित कलियासोत डेम के रविवार को 9 गेट गेट खोल दिए गए हैं। यहां भारी बारिश के चलते पानी की आवक काफी अधिक हो गई है।

सतपुड़ा डेम के सभी 14 गेट फ्री

पहाड़ी नदियों से अचानक आई बाढ़ के बाद सतपुड़ा डेम के सभी 14 गेट फ्री कर दिए गए हैं। डेम के सभी गेटों से प्रति सेकंड करीब 135000 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। सीजन में पहली बार सतपुड़ा डेम के 14 गेट खोलकर तवा नदी में 135000 क्यूसेक पानी प्रति सेकंड छोड़े जाने से निचली नदियों में जलजला है। निचली नदी पर निर्माणाधीन नांदिया घाट और शिवनपाठ पुल बाढ़ में डूब गए हैं। वहीं डेम के गेटों से छोड़े जा रहे पानी का विहंगम दृश्य देखने लोग तवा टू ब्रिज और सतपुड़ा डेम पहुंच रहे हैं। पहाड़ी नदियों से बाढ़ के रूप में सतपुड़ा डेम में आ रहे पानी के चलते आसपास के गांवों में जलभराव जैसी स्थिति निर्मित हो गई है। प्रदेश के प्रमुख जलाशयों में से एक सतपुड़ा जलाशय सारनी के लगातार गेट खुले हैं। इससे तवा नदी में भयंकर बाढ़ है।

सभी डेमों के खुल गए गेट, भारी बारिश से अलर्ट मोड में प्रदेश

सापना बांध ओवर फ्लो- बैतूल जिले में हो रही लगातार बारिश से सापना बांध भी ओवर फ्लो हो गया है। बांध से पानी छलककर बहने लगा है, जैस-जैसे पानी की आवक बढ़ रही है बांध से पानी निकलने वाले पानी की चादर मोटी होती जा रही है। अधिक बारिश के चलते यह बांध अन्य सालों की अपेक्षा इस बार पहले ही छलक उठा है, हर बार ये बांध अगस्त और सितंबर माह में छलकता है।


भदभदा डेम के सभी गेट खुले- भोपाल में जारी बारिश के कारण भदभदा डेम भी भर चुका है और रविवार को भदभदा डेम के सभी 11 गेट खोल दिए गए।


कोलार डेम के 4 गेट खुले- आपको बता दें कि भोपाल के कोलोर डेम के 4 गेट रविवार को खोल दिए गए जिनसे हजारों क्यूसिक पानी हर घंटे छोड़ा जा रहा है।


राजघाट डेम के खुले 8 गेट-मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले में स्थित राजघाट डेम के 8 गेट खोल दिए हैं, भारी बारिश के चलते यहां पानी की जमकर आवक हो रही है। बेतवा नदी में पानी का बहाव तेज होने के कारण यहां प्रति सैकेंड 25.48 लाख लीटर पानी गेट से बाहर निकल रहा है।

औंकारेश्वर डेम के खोले सभी गेट- खंडवा जिले में स्थित औंकारेश्वर डेम के सभी गेट खोल दिए गए हैं।


इंदिरा सागर डेम में बढ़ा जलस्तर- लगातार हो रही बारिश से खंडवा जिले में स्थित इंदिरा सागर बांध का जलस्तर बढ़ गया है, जिससे निचली बस्तियों और डेम प्रभावित क्षेत्र में रहने वाले लोगों को अलर्ट किया गया है। ताकि वे समय पर सुरक्षित स्थानों पर पहुंच जाएं। ओंकारेश्वर पॉवर स्टेशन की बाढ़ नियंत्रण प्रकोष्ठ ने खंडवा, खरगोन, धार, बड़वानी और देवास कलेक्टर-एसपी व संबंधित एसडीएम को आगाह किया है। ताकि वे समय पर ओंकारेश्वर बांध तथा नर्मदा तटीय क्षेत्रों में आवश्यक सुरक्षा इंतजाम करें। इंदिरा सागर के ऊपरी हिस्सों में तथा कैचमेंट एरिया में लगातार बारिश हो रही है।


बारना डेम के गेट खोले- भारी बारिश के चलते बढ़ी पानी की आवक के चलते बारना बांध के गेट खोल दिए गए हैं, बारिश के चलते यहां आसपास के क्षेत्रों में जल भराव हो रहा है।

पहली बारिश में फूट गया डेम- भीमपुर ब्लॉक की ग्राम पंचायत रंभा में 26 लाख की लागत से बना अमृत सरोवर डैम तेज बारिश के चलते फूट गया। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत भीमपुर ब्लॉक में कई अमृत सरोवर डैम बनाए गए हैं। यहां कुछ महीने पहले ही 26-26 लाख रुपए की लागत से दो डेम बनाएं गए, इसमें एक फूट गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

पीएम मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, कितना भी 'काला जादू' फैला लें कुछ होने वाला नहींदेश के 49वें CJI होंगे यूयू ललित, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने नियुक्ति पर लगाई मुहरसुनील बंसल बने बंगाल बीजेपी के नए चीफ, कैलाश विजयवर्गीय की हुई छुट्टीसुप्रीम कोर्ट से नूपुर शर्मा को बड़ी राहत, सभी FIR को दिल्ली ट्रांसफर करने के निर्देशBihar Mahagathbandhan Govt: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली बिहार के CM पद की शपथ, तेजस्वी यादव बने डिप्टी सीएमनाम लिए बिना PM मोदी पर नीतीश का हमला, बोले- '2014 वाले 2024 में रहेंगे तब न, विपक्ष में हमलोग आ गए हैं अब सब होगा'Maharashtra: महाराष्ट्र में कैबिनेट विस्तार के बाद नाराजगी की खबर, CM से मुलाकात के बाद बच्चू कडू ने कही ये बातBihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार ने 8वीं बार ली सीएम पद की शपथ, तेजस्वी बने डिप्टी CM, कैबिनेट विस्तार बाद में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.