scriptPaddy will be purchased on support price till January 15, 2022 | समर्थन मूल्य पर 15 जनवरी 22 तक होगी धान की खरीदी | Patrika News

समर्थन मूल्य पर 15 जनवरी 22 तक होगी धान की खरीदी

किसानों के आधार लिंक बैंक खातों में किया जाएगा भुगतान

भोपाल

Published: December 06, 2021 07:11:00 pm

भोपाल. मध्य प्रदेश में खरीफ विपणन साल 2021-22 में समर्थन मूल्य पर धान उपार्जन कार्य 29 नवंबर 2021 से शुरू हो गया है। यह खरीदी अब 15 जनवरी 2022 तक चलेगी। केंद्र सरकार के निर्देशानुसार उचित मूल्य पर उपार्जित स्कंध का भुगतान संबंधित कृषक को उसके आधार लिंक खातों में ही किया जाना है, सभी किसान जिन्होंने फसल विक्रय के लिये पंजीयन कराया है उनकों उनके आधार नंबर से कम से कम एक खाता लिंक होना चाहिये, जिस पर विक्रय फसल की राशि का भुगतान किया जा सके।

patrika_mp_4.png

आपूर्ति अधिकारी ने बताया कि सभी पंजीकृत किसानों को खादय नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग भोपाल से एक एसएमएस भेजा गया है। समर्थन मूल्य का भुगतान किसान के आधार नंबर से लिंक बैंक खाते में ही किया जाएगा। किसान पंजीयन क्रमांक में आपके द्वारा दिये गये मोबाईल नंबर एवं आधार नंबर में दर्ज मोबाईल नंबर अलग होने के कारण आधार नंबर का सत्यापन नहीं हो सकता है। इसलिए नजदीक के आधार पंजीयन केन्द्र पर जाकर अपने आधार नंबर में पंजीयन में उल्लेखित मोबाईल नंबर दर्ज कराए।

Must See: अवैध रेत ले जा रहा ट्रैक्टर-ट्रॉली पकड़ी, होमगार्ड पर किया हमला

वही किसानों को उपार्जित धान की राशि का भुगतान जेआईटी पोर्टल के माध्यम से सीधे किसानों के बैंक खातों में किया जायेगा। इसके लिये किसानों को धान उपार्जन केन्द्रो पर ईकेवाईसी तत्काल कराना होगा। ईकेवाईसी के लिए आधार नंबर पर लिंक मोबाईल नंबर पर ओटीपी आता है ओटीपी डालते ही ईकेवाईसी हो जाएगी। यदि किसी किसान का पूर्व में आधार नंबर पर लिंक मोबाईल नंबर चालू नहीं है तो उसे पहले वर्तमान में चालू मोबाईल नंबर आधार केन्द्र पर जाकर अपडेट कराना होगा। उसके बाद धान उपार्जन केन्द्र पर ईकेवाईसी करानी होगी।

Must See: बेखौफ रेत माफिया ने होशंगाबाद के पास नर्मदा नदी की धार रोकी

किसानो को भुगतान आधार लिंक बैंक खाते पर
शासन की समर्थन मूल्य योजना का अधिक से अधिक लाभ प्राप्त करने के लिये प्रदेश के धान विक्रय हेतु पंजीकृत किसानों को बेची गई धान की उपज की राशि के लिए पहले धान उपार्जन केन्द्र पर संम्पर्क कर अपना ईकेवाईसी तत्काल कराने की सलाह दी जा रही है जिससे किसानों को भुगतान प्राप्त करने में कोई कठिनाई न हो और समय पर उनकी फसल का भुगतान प्राप्त हो जाये।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

SSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजविराट कोहली ने किसके सिर फोड़ा हार का ठीकरा?, रहाणे-पुजारा का पत्ता कटना तयएसईसीएल ने प्रभावित गांवों को मूलभूत सुविधा देना किया बंद, कोल डस्ट मिले पानी से बर्बाद हो रहे हैं खेततीसरी लहर का खतरनाक ट्रेंड, डाक्टर्स ने बताए संक्रमण के ये खास लक्षण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.