सुसाइड नोट में लिखा- मम्मी, पापा, भाई और दोस्त माफ करना

KRISHNAKANT SHUKLA

Publish: May, 18 2018 09:11:58 AM (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
सुसाइड नोट में लिखा- मम्मी, पापा, भाई और दोस्त माफ करना

पेपर एजेंसी के संचालक ने दफ्तर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस को शव के पास से एक पेज का सुसाइड नोट मिला है।

भोपाल. नीलबड़ इलाके में राहुल पेपर एजेंसी के संचालक ने दफ्तर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस को शव के पास से एक पेज का सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने मौत के लिए खुद को जिम्मेदार मानते हुए लिखा, मम्मी-पापा मुझे माफ कर देना...मेरे मरने के बाद मेरा कमरा दीदी को दे देना।

पंचशील नगर निवासी 32 वर्षीय राकेश मालवीय अविवाहित था। वह पेपर एजेंसी का संचालन करता था। बुधवार-गुरुवार की रात दफ्तर में पंखे से लटककर फांसी लगा ली। घटना का खुलासा गुरुवार सुबह साढ़े छह बजे तब हुआ जब एक हॉकर पेपर बांटने के लिए दफ्तर पहुंचा। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। रातीबड़ पुलिस आत्महत्या की वजह की जांच कर रही है।

दीदी को दे देना मेरा कमरा, आई लव यू..
मृतक ने अपने माता-पिता को संबोधित करते हुए लिखा है कि मेरे मरने के बाद मेरा कमरा रानू दीदी को दे देना। मम्मी, पापा, भाई और दोस्त मुझे माफ करना। आई लव यू... आई लव यू.. पुलिस की प्रारंभिक जांच में लेनदेन की बात सामने आई है। फिलहाल मृतक के परिजनों के बयान नहीं हो सके हैं, बयान के बाद आत्महत्या के कारणों का खुलासा हो सकेगा। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

मैं नहीं चाहता कि कटा-फटा शरीर घर जाए
रातीबड़ थाना प्रभारी घनश्याम दांगी ने बताया कि सुसाइड नोट में लिखा है कि मैं अपनी मौत के लिए खुद जिम्मेदार हूं। मैं अपनी मर्जी से आत्महत्या कर रहा हूं। इसके लिए किसी को परेशान न किया जाए। हो सके तो मेरा पीएम नहीं कराना। मैं नहीं चाहता कि कटा-फटा मेरा शरीर घरवालों को मिले। इसके बाद मृतक ने अपने कर्मचारियों से न्यूज पेपर के बिल और हिसाब-किताब का ब्यौरा लिखा है। पुलिस ने शव पीएम के लिए हमीदिया अस्पताल भेजा।

सुबह जहर खाया, बच गई तो लगा ली फांसी
बैरसिया क्षेत्र में नवविवाहिता ने बुधवार देर रात फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। महिला ने फांसी लगाने से पहले सुबह जहर खाकर खुदकुशी का प्रयास किया था, लेकिन परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे जहां उपचार के बाद छुट्टी कर दी गई थी।

सुसाइड नोट नहीं मिलने से आत्महत्या की वजह का खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस ने बताया, जमूसर कलां में रहने वाली 22 वर्षीय पिस्ता बाई गृहणी थी। सालभर पहले उसकी शादी कालूराम से हुई थी। कालूराम खेती करता है। बुधवार रात पिस्ता बाई ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस की प्रारंभिक जांच में घरेलू कलह की बात सामने आई है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned