पति को खुश रखना है तो पत्नियों को नहीं करने चाहिए ये 5 काम, तीसरे नंबर का तो बिलकुल न करें

पति को खुश रखना है तो पत्नियों को नहीं करने चाहिए ये 5 काम, तीसरे नंबर का तो बिलकुल न करें

भोपाल। घर की बहू बेटियों को लक्ष्मी का रुप माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि अगर कोई स्त्री किसी भी घर को चाहे को स्वर्ग बना सकती है और किसी भी घर को चाहे तो नर्क बना सकती है।कहा जाता है कि हर सफल पुरुष के पीछे एक स्त्री का हाथ होता है, ये बात अपने आप में सच है। घर की लक्ष्मी स्त्री ही होती है। जिस घर में स्त्री नहीं होती है वह घर-घर नहीं होता है। हर घर की सुख-समृद्धी स्त्री से ही जुड़ी होती है। शहर के ज्योतिषाचार्य पंडित जगदीश शर्मा बताते है कि हर व्यक्ति की सुख समृद्धी पूरी तरह से एक स्त्री पर निर्भर करती है। घर की लक्ष्मी घर के सारे काम करती है व सभी का ख्याल रखती है। पंडित जी बताते है कि जाने-अंजाने में घर की स्त्री से कई बार ऐसी गलतियां हो जाती है जिससे घर की सुख-शांति दूर हो जाती है। पंडित जी बताते है कि घर के अंदर कुछ काम ऐसे होते है जिन्हे कभी भी स्त्रियों को नहीं करने चाहिए। जानिए कौन से हैं वे काम.....

pandit ji

झाड़ू को न मारे पैर

कहा जाता है कि घर की स्त्रियों के द्वारा कभी भी झाड़ू को लात नहीं मारना चाहिए। जिस घर में महिलाएं झाड़ू को पैर से लगाती हैं या पैर से ठोकर मारती हैं वहां कभी भी लक्ष्मी का वास नहीं होता। अगर कोई स्त्री घर में ऐसा करती है तो उस घर में दरिद्रता छाई रहती है। वह घर कभी भी आर्थिक रुप से संपन्न नही हो सकता है। इसलिए ध्यान रहे कि घर की महिलाओं को ये काम कभी नहीं करना चाहिए।

astrology

न रखें जूठे बर्तन

घर की महिलाओं को कभी भी घर के अंदर जूठे बर्तन नहीं रखने चाहिए। घर की महिलाओं की आदत होती है कि वे तवा और कढ़ाई को किचन में जूठा रखकर हूी सोने के लिए चली जाती है। अगर आप भी अपने घर में ऐसा करती है तो तो ऐसे घर में भी लक्ष्मी कभी नहीं आती। यह गरीबी और दुख का कारण बनता है।

किसी को न दें सिंदूर दानी

सुहागिन महिलाएं कभी भी अपने सिंदूर को जिस भी डिब्बी से या सिंदूर दानी से आप सिंदूर लगाती है वह आपको किसी को नहीं देना चाहिए और सिंदूर जब भी लगाए तो अकेले में, सिर पर पल्ला डालकर लगाएं।

astrology

न दें पायल और चूड़ी

सुहागिनें महिलाएं अपने हाथ की चूड़ियां और पैर में पहली पायल भी किसी के साथ शेयर नहीं करना चाहिए। ऐसा करना बहुत ही अशुभ माना जाता है।

माथे की बिंदी

अपने माथे की बिंदी भी किसी और को नहीं देना चाहिये।

Ashtha Awasthi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned