Patrika Radio पर सुनिए कोरोना से जुड़ी 12 बजे तक की बड़ी ख़बरें

पत्रिका के आडियो बुलेटिन में प्रस्तुत है दोपहर 12 बजे तक की खबरें...।

By: Manish Gite

Published: 18 Apr 2020, 12:02 PM IST

मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1353 हो गई है। जबकि 64 मौत भी हुई है। सबसे ज्यादा संक्रमण इंदौर में है, यहां 892 पॉजिटिव केस आ चुके हैं। इसके साथ ही भोपाल में 196, खरगोन में 39, उज्जैन में 30, बड़वानी में 22, जबलपुर में 13, मुरैना में 14, विदिशा में 13, होशंगाबाद में 16 पॉजिटिव केस आ चुके हैं।

मध्यप्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए 405 कन्टेन्मेंट क्षेत्र घोषित किए गए हैं, जिनमें से सबसे ज्यादा इंदौर 155 और भोपाल में 119 कन्टेन्मेंट क्षेत्र बनाए गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है देश में अब तक 13387 कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। जबकि 437 मौत हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के मुताबिक देश में पिछले 24 घंटों के दौरान 1007 नए संक्रमित बढ़े हैं। जबकि 1049 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। अग्रवाल ने बताया कि कोरोना से निपटने के लिए वैक्सीन बनाने पर तेजी से काम हो रहा है। जबकि एंटी बॉडी और प्लाज्मा तकनीक पर भी काम चल रहा है। जल्द ही देश में स्वदेशी पीपीई उपलब्ध हो जाएगी।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी 20 अप्रैल से संक्रमित क्षेत्रों को छोड़कर कुछ क्षेत्रों में आवश्यक गतिविधियां शुरू करने की अनुमति दी है। इसके तहत लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए ग्रामीण अर्थव्यवस्था संबंधी कार्य, मजदूरों की दैनिक आमदनी, आवश्यक सेवा वाले औद्योगिक गितिविधियां, डिजिटल अर्थ व्यवस्था, ई-कामर्स, स्वास्थ्य, दवा और चिकित्सा उपकरण संबंधी इकाइयां आदि शुरू हो सकती हैं।

मध्यप्रदेश में मंत्रिमंडल बनाने को लेकर सुगुबुगाहट तेज हो गई है। शिवराज कैबिनेट में किसे शामिल किया जाएगा और किसे नहीं, उसे लेकर चर्चा चल रही है। माना जा रहा है कि एक-दो दिन में शिवराज कैबिनेट बनकर तैयार हो सकता है।

पत्रिका की अपील है कि आप भी अपने परिवार के साथ घरों में रहें और सुरक्षित रहें।

Manish Gite
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned