Patrika Radio पर सुनिए कोरोना से जुड़ी 12 बजे तक की बड़ी ख़बरें

पत्रिका के ऑडियो बुलेटिन में पेश हैं दोपहर 12 बजे तक की बड़ी खबरें....।

By: Manish Gite

Published: 01 Apr 2020, 12:02 PM IST

 

मध्यप्रदेश में अब तक कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 87 पर पहुंच गई है और पांच मरीजों की मौत हो गई। इंदौर शहर में ही यह आंकड़ा 63 पहुंच गया है। इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह का कहना है कि यह आंकड़ा बढ़कर 200 तक जा सकता है। उन्होंने एक बार फिर सभी से अपने घरों में ही सुरक्षित रहने की अपील की है। इसके अलावा जबलपुर में 8, भोपाल में 4, उज्जैन में 7, ग्वालियर में 2 और खरगौन में 1 मरीज मिला है। जबकि इंदौर के तीन और उज्जैन के दो मरीजों की मौत हो चुकी है।

 

इधर, दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में मजहबी जलसे में मध्यप्रदेश से भी 107 लोग गए थे। इनमें भोपाल के 36 लोग भी शामिल हुए थे। सभी व्यक्तियों को क्वारंटाइन किया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि धार्मिक कार्यक्रम के सिलसिले में जो भी व्यक्ति घूम रहे हैं, उनकी यात्रा का विवरण प्राप्त कर उचित कदम उठाएं। इनके अलावा जिस व्यक्ति में भी बीमारी के लक्षण दिखाई दें, उनके इलाज की तुरंत व्यवस्था करें।

 

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनता से एक बार फिर अपने घरों में रहने की अपील की है। उन्होंने कहा कि हमें #Corona को हर हाल में हराना है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि इसे हराने का सबसे प्रभावी उपाय है 'Total Lockdown'।

 

राज्यपाल लालजी टंडन ने भी अपने संदेश में प्रदेशवासियों से कहा है कि कोरोना एक विश्वव्यापी संकट है। इससे बचाव का एक ही तरीका है सोशल डिस्टेंस। इस संकट से निपटने के लिए सरकार जुटी हुई है। लोगों को भी संयम रख लॉकडाउन का पालन करना चाहिए।

 

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में कोरोना के 1251 मामले सामने आ चुके हैं, साथ ही 32 लोगों की मौत हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने कहा है कि कुछ लोगों का लॉकडाउन में सपोर्ट नहीं मिलना और स्वास्थ्य खराब होने की जानकारी देरी से देने के कारण यह मामले बढ़े हैं। इस जंग को सभी के साथ मिलकर ही जीत सकते हैं, इसलिए जनता का सौ प्रतिशत सहयोग चाहिए। एक व्यक्ति की लापरवाही के कारण पूरे समाज को नुकसान उठाना पड़ सकता है।

 

गृह मंत्रालय की प्रवक्ता के मुताबिक देश में लॉकडाउन की स्थिति संतोषजनक है। लगभग 21 हजार 64 राहत कैंप बनाए गए हैं। इनमें 6 लाख 66 हजार 251 गरीब-मजदूर लोगों को आश्रय और भोजन की सुविधा दी गई है।


पत्रिका की अपील है कि आप भी अपने परिवार के साथ घरों में रहें और सुरक्षित रहें।

coronavirus Coronavirus Outbreak Coronavirus in india Patrika
Show More
Manish Gite
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned