scriptPatwari arrested | नामांतरण के लिए रिश्वत की पहली किस्त आठ हजार रुपए लेते पटवारी गिरफ्तार | Patrika News

नामांतरण के लिए रिश्वत की पहली किस्त आठ हजार रुपए लेते पटवारी गिरफ्तार

रंगे हाथ गिरफ्तार

भोपाल

Published: December 25, 2021 01:47:46 pm

भोपाल. जमीन का नामांतरण और लीज रिन्यूअल के लिए पैसे की मांग करने वाले पटवारी मंगलेश खंडेलवाल को लोकायुक्त पुलिस ने 8 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। शुक्रवार शाम मनीषा मार्केट क्षेत्र में पटवारी मंगलेश खंडेलवाल नामांतरण और लीज रिन्यूअल के लिए भटक रहे आवेदक को बुलाकर पैसा लेने का प्रयास कर रहा था। इसी दौरान लोकायुक्त पुलिस ने उसे रंगे हाथ पकड़ लिया। पटवारी ने आवेदक से कहा था कि 25 दिसंबर को सुशासन दिवस की ड्यूटी में वो व्यस्त रहेगा इसलिए पहली किस्त 24 दिसंबर को ही देनी होगी।
लोकायुक्त पुलिस ने बताया कि श्यामराज सोनी वकील हैं। उनके पक्षकार को मकान का फौती नामांतरण, लीज रिन्यूअल कराना था। इसके लिए पक्षकार शक्ति नगर हल्का के पटवारी मंगलेश खंडेलवाल से मिले। पटवारी ने वकील के पक्षकार से एक लाख रुपए की रिश्वत मांगी गई। डील होने के बाद रिश्वत की पहली किस्त शुक्रवार को आठ हजार रुपए देने पहुंचा। पटवारी ने उसे मनीषा मार्केट बुलाया था। जैसे ही वकील के पक्षकार ने पटवारी को रिश्वत दी उसी समय लोकायुक्त की टीम ने उसे पकड़ लिया। एसपी मनु व्यास ने बताया कि पटवारी रिश्वतमिलने के बाद नामांतरण करने पर अड़ा था।
नामांतरण के लिए रिश्वत की पहली किस्त आठ हजार रुपए लेते पटवारी गिरफ्तार
नामांतरण के लिए रिश्वत की पहली किस्त आठ हजार रुपए लेते पटवारी गिरफ्तार
दो जालसाजों ने सोने के नाम पर थमाईं पीतल की गिन्नियां
भोपाल. शहर के मिसरोद थाना क्षेत्र में एक चाउमीन का ठेला लगाने वाले युवक ने लालच में आकर पांच लाख रुपए गंवा दिए। दो जालसाजों ने असली सोना बताकर उसे पीतल की गिन्नियां बेच दीं। ठग इतने शातिर थे कि उन्होंने पहले टेस्ट कराने के लिए जो टुकड़े दिए थे वे असली थे। अगले दिन उन्होंने पीतल थमा दिया।
मिसरोद पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार करोंद निवासी रामधर प्रजापति आशिमा मॉल के सामने चाउमीन का ठेला लगाता है। 15 दिसंबर को दोपहर दो युवक उसके पास आए और बताया कि वे मजदूरी करते हैं, उन्हें खुदाई में सोना मिला है। वे यहां पर किसी को भी नहीं जानते हैं इसलिए वे सोना किसी को बेच भी नहीं सकते। दुकान पर बेचने जाएंगे तो पुलिस के चक्कर में पड़ सकते हैं। रामधर इन युवकों के झांसे में आ गया। दोनों युवकों ने रामधर को तीन टुकड़े दिखाते हुए कहा कि इसी की गिन्नियां मिली हैं। रामधर को धोखे का अंदेशा हुआ, तो वे उन्होंने टुकड़ो को टेस्ट कराया। टेस्ट में टुकड़े सोने के ही पाए गए। रामधर को जब भरोसा हो गया तो अगले दिन दोनों युवक एक किलो सोने की गिन्नियां लेकर आए तथा उन्होंने कहा कि इसकी बाजार में कीमत आठ लाख रुपए से भी ज्यादा है। हम इसे पांच लाख रुपए में बेच देंगे। रामधर ने अपने पास जमा किए हुए पांच लाख रुपए रुपए दोनों युवकों को दे दिए। अगले दिन जब रामधर ने गिन्नियों को चैक कराया, तो वे सोने के बजाए पीतल की निकली। रामधर द्वारा की गई शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। रामधर ने पैसे आशिमा मॉल के पास ही युवकों को दिए थे। पुलिस सीसीटीवी कैमरों की मदद से जांच कर रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.