लोगों में रही फस्र्ट-सेकंड डोज की उलझन

टीकाकरण केंद्रों से वापस लौटे लोग

ढाई लाख से ज्यादा लोगों ने ली सेकंड डोज

 

By: Arun Tiwari

Published: 03 Jul 2021, 06:06 PM IST

भोपाल : टीकाकरण महाअभियान के दूसरे चरण में शनिवार को कोवैक्सीन का दूसरा डोज लगाया गया। टीके का टोटा और फस्र्ट और सेकंड डोज में बड़े अंतर को कम करने के लिए सरकार ने अपनी रणनीति बदली है इसीलिए लोगों को वैक्सीन का दूसरा डोज ही लगाया गया। सुबह से ही लोग वैक्सीन के फस्र्ट-सेकंड डोज में उलझे रहे। लोग वैक्सीन लगवाने तेज धूप में सेंटरों पर पहुंचे लेकिन उन्हें यहां आकर पता चला कि फस्र्ट डोज नहीं लगेगा। न ही कोविशील्ड का सेकंड डोज लगाया जाएगा। यह सुनकर कई लोग वापस लौट गए। शाम छह बजे तक 2 लाख 52 हजार से ज्यादा लोगों को कोवैक्सीन का सेकंड डोज लगाया गया। इसके लिए सरकार ने प्रदेश में 2000 सेंटर बनाए थे। प्रदेश को अब टीकाकरण बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार से पर्याप्त डोज की दरकार है लेकिन उम्मीद के मुताबिक प्रदेश को वैक्सीन नहीं मिल पा रही है।

सेकंड डोज का आंकड़ा कम, इसलिए जोर :
प्रदेश में में अब तक 2 करोड़ 15 लाख 51 हजार डोज लगाए जा चुके हैं। इनमें फस्र्ट डोज 1.87 करोड़ व सेकंड डोज लगवाने वालों की संख्या 27.70 लाख है। फस्र्ट की तुलना में सेकंड डोज का आंकड़ा काफी कम है, इसलिए सरकार सेकंड डोज लगवाने पर जोर दे रही है। लेकिन इसकी जानकारी लोगों तक नहीं पहुंच पाई। जिसके चलते जब लोग वैक्सीन लगवाने सेंटरों पर पहुंचे, तो फस्र्ट-सेकंड डोज में ही उलझकर रह गए। अब पांच जुलाई को कोविशील्ड वैक्सीन का दूसरा डोज लगाया जाएगा।

Arun Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned