scriptPetrol and diesel supply reduced due to fear of increase in price | दाम बढऩे की आशंका से पेट्रोल और डीजल की सप्लाई हुई कम | Patrika News

दाम बढऩे की आशंका से पेट्रोल और डीजल की सप्लाई हुई कम

बकानिया डिपो से कई टैंकरों को नहीं मिला पर्याप्त ईंधन

भोपाल

Published: March 11, 2022 01:27:28 am

भोपाल. पूर्व अनुमानों को देखते हुए हालांकि गुरुवार को पेट्रोल-डीजल के दाम तो नहीं बढ़े, लेकिन ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने ईंधन की शॉर्ट सप्लाई शुरू कर दी है। इसका असर गुरुवार को स्थानीय बकानिया डिपो में देखा गया, जहां से टैंकरों को मांग के हिसाब से डीजल-पेट्रोल नहीं मिला। पेट्रोल पंप डीलर्स की मानें तो कई टैंकर डिपो में खाली खड़े रहे। कंपनियों ने सर्वर डाउन की बात कही। सर्वर नहीं चलने से बिल जनरेट नहीं हुए।
दाम बढऩे की आशंका से पेट्रोल और डीजल की सप्लाई हुई कम
दाम बढऩे की आशंका से पेट्रोल और डीजल की सप्लाई हुई कम
दरअसल रूस-यूक्रेन के बीच चल रही जंग से क्रूड (कच्चे तेल) की कीमत आसमान पर पहुंच गई है। इसका असर डीजल-पेट्रोल की कीमतों पर आना तय है। चूंकि भारत में पांच राज्यों के चुनाव चल रहे थे। इससे तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के रेट नहीं बढ़ाए, लेकिन जानकारों का मानना है कि चुनाव परिणाम आते ही देश में पेट्रोल-डीजल के रेट बढ़ जाएंगे। इसी आशंका के चलते गुरुवार को स्थानीय बकानिया डिपो से ईंधन की शॉर्ट सप्लाई हुई। तेल उद्योग से जुड़े लोगों का कहना है कि कीमतें बढऩे के डर से तेल मार्केटिंग कंपनियां असमंजस्य की स्थिति में हैंं और वे सप्लाई रोक रही हंै। यदि ऐसा होता है तो कंपनियों को कम भाव में खरीदा डीजल-पेट्रोल ऊंचे दाम पर बेचना पड़ेगा, इससे उन्हें बड़ा मुनाफा होगा।
राजधानी में बकानिया डिपो से ईंधन की सप्लाई होती है। कंपनी के एक अधिकारी ने हालांकि डीजल-पेट्रोल की शॉर्ड सप्लाई से इनकार किया, लेकिन पेट्रोल पंप संचालकों का कहना है कि पूरे दिन कई टैंकर खड़े रहे। कंपनी ने सर्वर डाउन होने की बात कही। पेट्रोल पंप संचालक संजय शाह ने बताया कि उनका पंप डिपो से मात्र ढाई किलोमीटर दूर है, लेकिन गुरुवार को उन्हें मांग के हिसाब से डीजल-पेट्रोल नहीं मिला। बकानिया डिपो से रिलायंस एवं भारत पेट्रोलियम द्वारा ईंधन की सप्लाई की जाती है। कंपनी वालों ने कहा कि जामनगर से रैक नहीं आई है, इससे भी डीजल-पेट्रोल की सप्लाई प्रभावित हुई है।
ज्यादा खपत वाले कर रहे स्टॉक
कीमतें बढऩे के भय से डीजल की ज्यादा खपत वाली इकाइयां, किसान, ट्रांसपोर्टर आदि डीजल का स्टॉक कर रहे हैं। चूंकि इस समय फसल कटाई और ग्रीष्मकालीन फसलों की बुवाई का समय है। ऐसे में डीजल की खपत ज्यादा हो रही है। ज्यादातर लोग कम भाव पर डीजल का स्टॉक बनाने में लग गए हैं। इससे डीजल की मांग में 8 से 10 फीसदी तक की तेजी आ गई है।
ज्यादा खपत वाले कर रहे स्टॉक
डीजल की ज्यादा खपत वाले किसान, ट्रांसपोर्टर आदि स्टॉक कर रहे हैं। इस समय फसल कटाई और फसलों की बुवाई का समय है, ऐसे में डीजल की खपत ज्यादा हो रही है। इससे डीजल की मांग में 8 से 10 फीसदी तक बढ़ गई है।
कीमतें बढऩे के भय से डिपो से गुरुवार को मांग के हिसाब से पेट्रोल-डीजल की सप्लाई नहीं हुई। तेल मार्केटिंग कंपनियों की तरफ से पूरे दिन सर्वर डाउन होने की बात कही जाती रही। इन दिनों डीजल का स्टॉक करने की खबरें भी मिल रही है।
अजय सिंह, अध्यक्ष, मप्र पेट्रोल पंप ऑनर्स एसोसिएशन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

असम में बाढ़ से 7 जिलों के लगभग 57 हजार लोग प्रभावित, बचाव कार्य में जुटी इंडियन एयरफोर्सराजस्थान में तपिश और लू बनी ‘संजीवनी’, हुआ ये बड़ा फायदाCNG Price Hike: एक साल में CNG में 69.60% की बढ़ोतरी, जानें आपके शहर की लेटेस्ट कीमतहवाई सफर होगा महंगा, Jet Fule की कीमतें 5% बढ़ी, विश्व स्तर पर बढ़ती कीमतों का असरसोनिया गांधी का ये अंदाज पंसद आया, वे मुस्कुराई तो सभी कांग्रेसी भी मुस्कुराए, देखे पूरा वीडियोLunar Eclipse 2022: सदी का सबसे लंबा चंद्र ग्रहण हो गया है शुरू, क्यों कहा जा रहा 'ब्लड मून', जानिए भारत से कैसे और कहां दिखेगापीएम मोदी आज बुद्ध की जन्म और निर्वाण स्थली पर माथा टेकेंगे, जानें आज पूरे दिन का कार्यक्रमयूपी के नए मंत्रियों को आज राजधानी में गुरूमंत्र देंगे पीएम मोदी, जानें कौन-कौन रहेगा मौजूद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.