जहरीली शराबकांडः मुरैना कलेक्टर और एसपी को हटाया, एसडीओपी निलंबित

- मुरैना एसपी कलेक्टर को हटाया
- एसडीओपी निलंबित, तीन पुलिसकर्मी पहले हो चुके हैं सस्पेंड
- जिला आबकारी अधिकारी भी निलंबित
- अब तक मृतकों की संख्या 16 हुई
- अस्पताल में 17 लोगों की हालात नाजुक

By: Hitendra Sharma

Published: 13 Jan 2021, 12:25 PM IST

भोपाल. जहरीली शराब पीने से मुरैना में हुई मौतों के मामले में बुधवार को मुख्यमंत्री ने मुरैना जिला कलेक्टर और एसपी को हटा दिया है। साथ ही एक एसडीओपी को निलंबित कर दिया है। जिले में मौतों का सिलसिला अभी थमने का नाम नहीं ले रहा। मंगलवार को 14 लोगों की मौत के बाद आज फिर दो युवकों की मौत हो गई है। जिले में मृतकों की संख्या 16 तक पहुंच गई है। जवकि 17 लोगों की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है।

मुख्यमंत्री ने बुधवार को जहरीली शराब की घटना को लेकर उच्च स्तरीय बैठक बुलाई और बैठक में सीएम ने कहा मुरैना की घटना अमानवीय और तकलीफ पहुंचाने वाली है। मिलावट के विरुद्ध अभियान संचालित है, फिर भी प्रदेश में इस तरह की घटना दुखद है। बैठक में सीएम ने मुरैना कलेक्टर और एसपी को हटाने के निर्देश दिए हैं। साथ कहा कि पूरे मामले की जांच की जाएगी। ऐसे मामलों में अगर कलेक्टर एसपी दोषी होंगे तो एक्शन लिया जाएगा, मैं मूक दर्शक नहीं रह सकता। सीएम ने कहा कि शराब व्यवसाय पर कड़ी निगरानी हो। आबकारी अमला तैनात होना चाहिये। बैठक में गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्र और वित्त मंत्री श्री जगदीश देवड़ा, मुख्य सचिव, डीजीपी मौजूद थे।

cm_01.png

पहले इन पर हुई कार्रवाई
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मंगलवार को घटना पर संज्ञान लेते हुए कहा कि घटना में प्रथमदृष्टया सुपरविजन के लापरवाही पाए जाने पर, जिला आबकारी अधिकारी मुरैना को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया था, साथ ही मुरैना एसपी अनुराग सुजानिया ने तीन पुलिस कर्मियों अविनाश सिंह राठौर, उप-निरीक्षक थाना बागचीनी, राजेश गर्ग उप-निरीक्षक ग्राम छैरा मानपुर रामवरन सिंह, प्रधान आरक्षक थाना बागचीनी को निलंबित कर दिया।

Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned