छुट्टी से लौटा मप्र पुलिस का साप्ताहिक अवकाश

छुट्टी से लौटा मप्र पुलिस का साप्ताहिक अवकाश

Sumeet Pandey | Updated: 24 Jan 2019, 06:04:05 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

मुख्यमंत्री कमलनाथ 26 जनवरी को दिखाएंगे हरी झंडी

भोपाल. मप्र पुलिस का साप्ताहिक अवकाश 24 दिन बाद फिर 'छुट्टीÓ से लौट आया है। अब 26 जनवरी को मुख्यमंत्री कमलनाथ अपने गृह जिले से हरी झंडी दिखाकर विधिवत रूप से प्रदेश के पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश पर भेजेंगे। नए साल पर बने साप्ताहिक छुट्टी के तय रोस्टर प्लान के मुताबिक गणतंत्र दिवस पर एक साथ प्रदेश भर में टीआई से लेकर सिपाही स्तर के पुलिसकर्मी साप्ताहिक अवकाश पर जाएंगे। दरअसल, मप्र में कांग्रेस सरकार बनने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश के पुलिसकर्मियों को पहली सौगात साप्ताहिक अवकाश की दी। प्रदेश पुलिस के मुखिया डीजीपी ऋषि कुमार शुक्ला को सभी जिलों में छुट्टी का रोस्टर प्लान बनाने के लिए कहा। रोस्टर प्लान बना और ट्रायल के तौर पर इसकी शुरूआत राजधानी भोपाल से हुई, तब भोपाल में 2 जनवरी को छह टीआई समेत 351 पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश दिए गए। लेकिन अगले ही दिन इस साप्ताहिक अवकाश पर पूर्ण विराम लग गया।

यह थी वजह

पुलिस मुख्यालय सूत्रों के अनुसार डीजीपी ऋषि कुमार शुक्ला ने साप्ताहिक अवकाश को शुरू करने को लेकर 3 जनवरी को नाराजगी जताई। दरअसल, उनके आदेश को परीक्षण के बाद लागू करने के लिए कहा गया था। लेकिन, उनका यह आदेश मीडिया में वायरल हो गया। भोपाल पुलिस ने रोस्टर बनाकर उसे लागू कर दिया। जबकि पीएचक्यू सूत्रों की मानें तो इस सुविधा की शुरुआत मुख्यमंत्री कमलनाथ के माध्यम से कराए जाने की पीएचक्यू की तरफ से तैयारी थी। तीन-चार दिनों के अंदर सीएम कमलनाथ छिंदवाड़ा से इस आदेश को एक साथ तय रोस्टर प्लान के मुताबिक प्रदेशभर के पुलिसकर्मियों को छुट्टी पर भेजने की तैयारी में थे। इस तैयारी पर फिरे पानी के बाद जिले के अफसरों को पीएचक्यू तलब किया गया था। इसके बाद तीन जनवरी की शाम साप्ताहिक अवकाश को रद्द करने का निर्णय लिया गया।

पुलिसकर्मियों के चेहरे पर फिर लौटी खुशी

नए साल पर मिली साप्ताहिक अवकाश की सौगात के बाद फिर लगे अडंगे को लेकर पुलिसकर्मियों में हडंकप मच गया और उनके चेहरों पर मायूसी छा गई थी, लेकिन एक दिन पहले पुलिस मुख्यालय से जारी हुए आदेश के बाद फिर से पुलिसकर्मियों के बीच खुशी लौट आई है। अभी से थानों में चस्पा रोस्टर प्लान के मुताबिक पुलिसकर्मियों ने छुट्टी का प्लान तैयार करना शुरू कर दिया है। आदेश में कहा गया है कि यदि कर्मचारी उसी महीने में अवकाश नहीं लेता है तो वह समाप्त माना जाएगा। हालांकि इसके बदले में उसे भुगतान होगा या नहीं इसको लेकर स्थिति साफ नहीं की गई है।

 

- अवकाश की ऐसे की गई गणना
01- वर्ममान में प्रचलित प्रथा के अनुसार दोपहर 12 बजकर 5 मिनट पर रवानगी और सुबह 11 बजकर 55 मिनट पर वापसी प्रथा पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जाए। शाम की गणना के बाद रवानागी और सुबह की गणना में वापसी कराई जाए।

02- साप्ताहिक अवकाश पर रवानगी रात्रि गश्त ड्यूटी करने के बाद ही दी जाएगी और अन्य अवकाश की गणना अगले दिन से की जाएगी।
03- साप्ताहिक अवकाश को किसी अन्य अवकाश से नहीं जोड़ा जाएगा।

04- साप्ताहिक अवकाश उन पुलिसकर्मियों को नहीं मिलेगा, जो आइजी-डीआइजी और एसपी के साथ बिसबल अफसरों के कार्यालयों में पदस्थ हैं।

मुख्यमंत्री की मंशानुसार थानों में बनाए गए तय रोस्टर प्लान के मुताबिक 26 जनवरी को पडऩे वाले साप्ताहिक अवकाश की प्रदेश भर में एक साथ सभी जिलों के पुलिसकर्मियों को छुट्टी दी जाएगी। मुख्यमंत्री 26 जनवरी को झंडा वंदन के बाद इसे लागू करेंगे। सभी रेंज आइजी-एसपी इस आदेश का सख्ती से पालन करें।
ऋषि कुमार शुक्ला, डीजीपी मप्र पुलिस

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned