'सचिन पायलट की बगावत का यहां भी असर, कांग्रेस की बढ़ जाएगी मुश्किलें'

राजस्थान के सियासी घमासान पर मध्यप्रदेश के दिग्गज नेताओं ने दी प्रतिक्रिया...।

By: Manish Gite

Published: 15 Jul 2020, 05:35 PM IST

 

भोपाल। राजस्थान की गेहलोत सरकार (ashok gehlot) में उप मुख्यमंत्री रहे सचिन पायलट (sachin pilot) को हटाए जाने के बाद घमासान (political crisis in Rajasthan) मचा हुआ है। इसका असर मध्यप्रदेश में भी देखने को मिल सकता है। इधर, मध्यप्रदेश में भी भाजपा-कांग्रेस की प्रतिक्रियाएं (politicians statements ) मिल रही हैं।

 

हाल ही में मंत्री बनाए गए एंदल सिंह कंसाना ने कहा है कि राजस्थान में सचिन पायलट को हटाए जाने पर गुर्जर समाज में आक्रोश है। इसका असर मध्यप्रदेश की सियासत में भी देखने को मिल रहा है। गुर्जर समाज का प्रतिनिधित्व कर रहे मंत्री एंदल सिंह कंसाना ने ऐलान किया है कि उपचुनाव में गुर्जर समाज कांग्रेस के खिलाफ वोट करेगा, वहीं उन्होंने सचिन पायलट से जल्द जल्ज चर्चा करने की भी बात कही है।

कंसाना ने यह भी कहा है कि वे सचिन पायलट से अपील करेंगे और आज-कल में ही चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने सचिन का अपमान किया है। यह देश के गुर्जर समाज का अपमान है। सचिन के अपमान से मध्यप्रदेश में गुर्जर समाज में सौ प्रतिशत आक्रोश है।

कंसाना ने कहा कि गुर्जर समाज मध्यप्रदेश में 7 सीटों पर निर्णायक भूमिका में है। उपचुनाव में गुर्जर समाज कांग्रेस के खिलाफ वोट डालेगा। गौरतलब है कि कंसाना मध्यप्रदेश में गुर्जर समाज के बड़े नेता हैं। पिछले दिनों कंसाना ने कहा था कि कांग्रेस के कई विधायक उनके समर्थन में हैं और संपर्क में हैं।

 

narottam.jpg

नरोत्तम मिश्रा बोले- कांग्रेस डूबता जहाज है
मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र ने भी राजस्थान में चल रही सियासी उथल-पुथल पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस पार्टी तो डूबता हुआ जहाज है। सचिन पायलट जागे पर बहुत देर से जागे। कांग्रेस पार्टी पर बोलते हुए नरोत्तम मिश्र ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, जो अपनी पार्टी के बुजुर्ग नेताओं की चिंता कर रही हैं और बहन बंगले की चिंता में डूबी हुई हैं, यह पार्टी की चिंता कर रहे हैं तो बहुत हैं। टुकड़े-टुकड़े गैंग का साथ देने वाले लोग जनता का विश्वास खो चुके हैं। मिश्र ने कहा कि राहुल युवाओं को उभरने नहीं देते, 75 साल के बुजुर्गों को सत्ता सौंपते हैं। कांग्रेस तो परिस्थितियों के कारण और झूठ बोलकर सत्ता में आई थी। अब जैसे मध्यप्रदेश में खुद ही टूटकर बिखर गई वैसे ही राजस्थान में टूट रही है।

 

 

scindia_2.jpg

दिग्विजय बोले- राजस्थान में 5 साल चलेगी सरकार
मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह ने भी राजस्थान के सियासी बवाल पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि राजस्थान की सरकार पूरे पांच साल चलेगी। दिग्विजय ने मध्यप्रदेश की राजनीति के बारे में कहा कि कांग्रेस ने सिंधियाजी को पूरे प्रदेश की जिम्मेदारी सौंपी थी। उन्होंने चुनाव समिति का चेयरमैन बनाया था। इसके अलावा भी कई बड़े पद दिए थे। कांग्रेस ने उनको सम्मान और पद दोनों दिया। आज वो दुश्मनों के साथ खड़े हैं। राजनीति में सब्र होना चाहिए।

Congress BJP
Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned