Election 2019: नाराज कमलनाथ ने पूछा- कटौती साजिश तो नहीं?

Election 2019: नाराज कमलनाथ ने पूछा- कटौती साजिश तो नहीं?

KRISHNAKANT SHUKLA | Publish: Apr, 17 2019 10:24:55 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

लोकसभा चुनाव 2019 के बीच बिजली पर सियासत, नाराज कमलनाथ ने पूछा- कटौती साजिश तो नहीं?

भोपाल. लोकसभा चुनाव के बीच बिजली पर सियासत गरमा गई है। तीखे होते गर्मी के तेवर के बीच प्रदेश के कई इलाकों में अघोषित बिजली कटौती पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने नाराजगी जताई है। कमलनाथ ने बिजली आपूर्ति की समीक्षा करके एक महीने की रिपोर्ट तलब की है।

साथ ही अघोषित कटौती होने की स्थिति में संबंधित अफसरों की जवाबदेही तय होगी। इसके अलावा कलेक्टर भी उनके निशाने पर आ गए हैं, क्योंकि कमलनाथ ने सभी कलेक्टरों से कटौती करने की स्थिति में लिखित में कारण सहित जानकारी भेजने के लिए कहा था, लेकिन एक भी कलेक्टर ने इसकी जानकारी नहीं भेजी है।

दरअसल, कांग्रेस सरकार आ गई तो बिजली कटौती होगी ही वाली टैगलाइन के साथ भाजपा ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधा है, इसलिए कमलनाथ ने बिजली महकमे पर नाराजगी जताई है।

कमलनाथ ने साफ कहा है कि भाजपा अघोषित कटौती को जरिया बनाकर जनता को भ्रमित करके सरकार की छवि खराब कर रही है। अफसर इस मामले में स्थिति स्पष्ट करें। कमलनाथ ने कहा है कि आम उपभोक्ताओं को 24 घंटे और कृषि उपभोक्ताओं को न्यूनतम 10 घंटे बिजली आपूर्ति अनिवार्य रूप से की जाए।

सरप्लस फिर कटौती क्यों?

मुख्यमंत्री ने बिजली कंपनियों से पूछा है कि बिजली सरप्लस है तो कटौती की शिकायतें क्यों आ रही हैं। उन्होंने कहा कि इस बात का भी पता लगाया जाए कि चुनाव के समय ही कटौती की शिकायतों क्यों आ रही हैं? क्या इसके पीछे कोई राजनीतिक साजिश है। सीएम ने मंत्रियों व विधायकों को भी निर्देशित किया है कि वे अपने क्षेत्रों में सतत निगरानी रखें।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned