गोडसे पर कांग्रेस में घमासान: एक और कांग्रेस नेता कमलनाथ के खिलाफ, बोल दी बड़ी बात

एक गोडसे भक्त को कांग्रेस की सदस्यता दिलवाकर घिरे कमलनाथ, कई कांग्रेस नेता कर रहे हैं कमलनाथ का विरोध...।

By: Manish Gite

Published: 27 Feb 2021, 02:15 PM IST

भोपाल। मध्यप्रदेश में इन दिनों कांग्रेस में कुछ ठीक नहीं चल रहा है। एक गोडसे भक्त को हाल ही में कांग्रेस की सदस्यता दिलवाकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ अपनी ही पार्टी के नेताओं के निशाने पर आ गए हैं। पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव और विधायक लक्ष्मण सिंह के बाद अब कांग्रेस नेता माणक अग्रवाल भी कमलनाथ के खिलाफ हो गए हैं। उन्होंने कमलनाथ से अपनी विचारधारा स्पष्ट करने की मांग कर डाली।

manak.png

 

विचाराधारा के विपरित चलते हैं कमलनाथ

मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व मुख्य प्रवक्ता एवं कांग्रेस नेता माणक अग्रवाल ने शनिवार को एक बयान जारी कर राजनीति गर्मा दी है। उन्होंने सीधे-सीधे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ से प्रश्न किया है। माणक अग्रवाल ने कहा है कि कमलनाथ जी को यह स्पष्ट करना चाहिए कि वह गोडसे की विचारधारा के साथ हैं या गांधी जी की विचारधारा के साथ। जिस तरीके से उन्होंने अडानी और अंबानी की तारीफ पिछले दिनों में की, उससे यह स्पष्ट होता है कि वह हमेशा से पार्टी की विचारधारा के विपरीत चले हैं।

 

arun.png

अरुण यादव ने किया सबसे पहले विरोध

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने गांधी के हत्यारों की विचारधारा वाले नेता को कांग्रेस ज्वाइन करवाने पर कड़ी आपत्ति की। शुक्रवार को अरुण यादव ने कहा था कि मैं खामोश नहीं बैठूंगा, सड़कों पर उतर आऊंगा। गांधी के हत्यारों की विचारधारा वाले गोडसे भक्तों को कांग्रेस की सदस्यता दिलाने का विरोध करता हूं। गौरतलब है कि अरुण यादव भी मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं।

 

क्या कहते हैं सज्जन सिंह

अरुण यादव के खिलाफत करने पर पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस विधायक सज्जन सिंह वर्मा ने मीडिया से कहा कि जिसे आना हो आ सकता है, गोडसे की विचारधारा को छोड़कर कोई यदि गांधी की विचारधारा अपनाता हैं तो इसमें बुराई क्या है। गौरतलब है कि सज्जन सिंह वर्मा पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेहद करीबी माने जाते हैं।

babulal.png

मैं जन्मजात कांग्रेसी

गोडसे भक्त बाबूलाल चौरसिया ने कहा है कि जब अरुण यादव प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष थे तो उन्होंने मुझे चुनाव नहीं लड़ने दिया था। इसलिए मैं दूसरी पार्टी से चुनाव लड़ा था। मैं जन्मजात कांग्रेसी हूं। गौरतलब है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने पिछले दिनों बाबूलाल चौरसिया को कांग्रेस की सदस्यता और शपथ दिलवाई थी। चौरसिया को लोग गोडसे भक्त कहते हैं। कांग्रेस में विवाद का कारण भी यही है।

गोडसे उपासकों की जगह जेल में, कांग्रेस में नहीं

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के छोटे भाई चांचौड़ा से कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने भी अपनी ही पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर तंज कसा है। उन्होंने गोडसे भक्त को पार्टी की सदस्यता दिलाने पर कहा है कि गोडसे के उपासकों के लिए सेंट्रल जेल उपयुक्त स्थान है, कांग्रेस पार्टी नहीं। ग्हृ मंत्रालय भी गोडसे समर्थकों की गतिविधियों पर नजर रखे तो उचित होगा। यह बयान लक्ष्मण सिंह ने एक ट्वीट के जरिए दिया है।

सिंधिया के बाद अब दिग्विजय के भाई ने बदला स्टेटस, लिखा विधायक, कृषक और गायक

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned