पॉल्यूशन मॉनिटर के लिए तीन मीटर तय, लगा रहे दूसरे माले पर

रियल टाइम मॉनिटरिंग में हवा के प्रदूषण की सच्चाई सामने लाने से बचने की कोशिश कर रहा पीसीबी

By: Ram kailash napit

Published: 29 Mar 2019, 03:03 AM IST

भोपाल. शहर में वायु प्रदूषण की लाइव स्थिति दर्शाने वाले रियल टाइम मॉनिटरिंग सिस्टम के चालू होने से पहले ही इसके डाटा में छेड़छाड़ की कोशिश हो रही है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड हवा के नमूने इतनी ऊंचाई से लेने का प्रयास कर रहा है, जहां प्रदूषण के कण न्यूनतम हैं। पहले मॉनिटरिंग सिस्टम न्यू मार्केट की मल्टीलेवल पार्किंग की छत पर लगाने की तैयारी थी। पत्रिका ने इसका खुलासा किया तो उच्चाधिकारियों ने फटकार लगाई। अब सिस्टम टीटी नगर थाने की छत पर लगाया जा रहा है, लेकिन यह जगह भी नमूने लेने के लिए तय तीन मीटर के मानक से कहीं ऊपर है। इससे प्रदूषण की सही स्थिति नहीं मिलेगी। गौरतलब है कि एनजीटी ने शहर में रियल टाइम मॉनिटरिंग सिस्टम लगाने के निर्देश दिए हैं। इसके पालन में पर्यावरण परिसर, हबीबगंज, वल्लभ भवन और एयरपोर्ट पर डिस्पले बोर्ड तो लगवा दिए गए, लेकिन इन पर डाटा डिस्पले करने के लिए मॉनिटरिंग सेंटर सिर्फ न्यू मार्केट में बनाया जा रहा है। साथ ही मॉनिटरिंग करने वाले यंत्र ऊंचाई पर लगाए जा रहे हैं।

मॉनिटरिंग सिस्टम के यंत्र आ गए हैं। पहले यह सेंसर मल्टीलेवल पार्किंग की छत पर लगाए जा रहे थे, लेकिन उसकी ऊंचाई अधिक होने से अब इसे टीटी नगर थाने की छत पर स्थापित किया जा रहा है। यहां से इलाके के प्रदूषण का सही डाटा मिल सकेगा। इसे डिस्पले बोर्ड पर डिस्पले किया जाएगा।
पीएस बुंदेला, क्षेत्रीय अधिकारी, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड

 


बोर्ड का काम प्रदूषण के सही स्तर को मापना, उसे सरकार, सम्बंधित एजेंसियों व जनता के सामने रखना एवं प्रदूषण में कमी लाने का प्रयास करना है। इसके बजाए यहां लगातार जो कदम उठाए जा रहे हैं, उनको देख कर लगता है कि बोर्ड की मंशा प्रदूषण के सही स्तर को सामने लाने की नहीं ।
सुभाष सी. पांडेय, पर्यावरणविद् एवं एनजीटी में दर्ज केस के याचिकाकर्ता

Show More
Ram kailash napit Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned