कमलनाथ बोले विधायक समझें अपनी जिम्मेदारी, प्रबोधन कार्यक्रम का आज दूसरा दिन

सिर्फ घूमने-फिरने के लिए नहीं हैं विधानसभा की समितियां: महंत
प्रबोधन कार्यक्रम: विधायकों को बताई मर्यादा और उनके कर्तव्य

By: KRISHNAKANT SHUKLA

Published: 07 Jul 2019, 09:49 AM IST

भोपाल . छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने कहा कि सदन की समितियां सदन का लघु रूप होती हैं। इसे सदन के बराबर के अधिकार हैं, लेकिन हम इनका महत्व नहीं समझते और इन्हें घूमने-फिरने, व आनंद का माध्यम बना देते हैं। बल्कि होना यह चाहिए कि सदस्य ज्यादा से ज्यादा अध्ययन करें। रविवार को प्रबोधन कार्यक्रम का दूसरा दिन है।

कितना बोलना है, इसका भी प्रशिक्षण जरूरी: कमलनाथ

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि नए विधायकों को बहुत कुछ सीखने की जरूरत है, उन्हें कब और कितना बोलना है, कब चुप रहना है, यह उन्हें पता होना चाहिए। विधायक अपनी जिम्मेदारी समझें, क्योंकि जिन मतदाताओं ने उन्हें विधानसभा तक चुनकर भेजा है, उनका भरोसा न तोड़ें और सदन में क्षेत्र हित, प्रदेश हित और देश हित की बात करें। एक जिम्मेदार प्रतिनिधि को संसदीय परंपराओं, नियम प्रक्रियाओं का गहन अध्ययन करना चाहिए।

सभी को मिलकर काम करने की जरूरत

छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने कहा कि समितियों के बारे में जानें तो इनका उद्देश्य पूरा होगा। महंत यहां विधानसभा के प्रबोधन कार्यक्रम में आए थे। दो दिनी कार्यक्रम में शनिवार को पहले दिन विधायकों को संबोधित करते हुए महंत ने कहा, सदन में वैसे तो पक्ष विपक्ष होता है, लेकिन इन समितियों में सभी को मिलकर काम करने की जरूरत होती है। सदन कुछ दिन चलता है, जबकि समितियां लगातार काम करती हैं।

हंगामा कर कार्यवाही बाधित करना गलत

मप्र विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने कहा, नए विधायकों के लिए प्रबोधन कार्यक्रम महत्वपूर्ण है। विधायक नियम प्रक्रिया का अध्ययन करें और इसी के तहत सवाल पूछें। सवालों से सरकार को घेरने में कोई बुराई नहीं है, लेकिन हंगामा कर कार्यवाही बाधित करना गलत है। कार्यक्रम में राजस्थान विधानसभा के अध्यक्ष सीपी जोशी को भी शामिल होना था, लेकिन फ्लाइट छूट जाने से वे नहीं आ सके।


‘एक माह में जवाब न मिले तो पेशी हो’

लोकसभा महासचिव स्नेहलता श्रीवास्तव ने बताया कि लोकसभा अध्यक्ष ने कह रखा है शून्यकाल में पूछे जाने वाले सवालों के जवाब यदि एक माह में नहीं आते तो मंत्री की पेशी करो, लेकिन जवाब आएं। अन्य सवालों के जवाब भी जरूरी हैं। उन्होंने सदन की बैठकों की संख्या कम पर भी चिंता जाहिर की।

आकाश समेत 100 विधायक गैरहाजिर

नगर निगम अफसरों की बैट से धुनाई करने वाले इंदौर के विधायक आकाश विजयवर्गीय समेत सौ से ज्यादा विधायक प्रबोधन कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। इसमें शिवराज सिंह चौहान, नरोत्तम मिश्रा, विश्वास सारंग, रामेश्वर शर्मा आदि शामिल हैं।

BJP Congress
Show More
KRISHNAKANT SHUKLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned