अनुसुइया उइके बनीं छत्तीसगढ़ की राज्यपाल, आनंदीबेन के पास था अतिरिक्त प्रभार

अनुसुइया उइके बनीं छत्तीसगढ़ की राज्यपाल, आनंदीबेन के पास था अतिरिक्त प्रभार
Anusuiya Uikey

Manish Geete | Updated: 29 Jul 2019, 04:41:50 PM (IST) Chhindwara, Chhindwara, Madhya Pradesh, India

मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा में जन्मी अनुसूइया उइके को छत्तीसगढ़ का राज्यपाल बनाया गया है। इससे पहले मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंद पटेल के पास अतिरिक्त प्रभार था। अनुसूइया उइके का जन्म 10 अप्रैल 1957 में मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा में हुआ था।

 

भोपाल। मध्यप्रदेश से राज्यसभा सांसद ( member of parliament ) रही भाजपा ( bjp ) की नेता अनुसूइया उइके ( anusuiya uikey ) को छत्तीसगढ़ का राज्यपाल ( Governor of Chhattisgarh ) बनाया गया है। इससे पहले मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंद पटेल अतिरिक्त प्रभार संभाल रही थीं। अनुसूइया उइके का जन्म 10 अप्रैल 1957 में मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा ( chhindwara ) में हुआ था। उइके ने रायपुर में सोमवार को पद एवं गोपनीयता की शपथ ले ली। इधर, मध्यप्रदेश के नए राज्यपाल के रूप में लालजी टंडन ने भी शपथ ले ली। यह पद आनंदीबेन पटेल के उत्तरप्रदेश तबादले के बाद खाली हुआ था।

मध्यप्रदेश से भारतीय जनता पार्टी के नेता एवं पूर्व राज्यसभा सांसद अनुसूइया उइके को छत्तीसगढ़ राज्य का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ( ram nath kovind ) ने यह नियुक्ति की है। इनके अलावा राष्ट्रपति ने विस्‍वाभूषण हरिचंदन को आंध्र प्रदेश का राज्‍यपाल नियुक्‍त किया है। इससे एक दिन पहले कलराज मिश्र को हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल और देवव्रत आचार्य को गुजरात का राज्‍यपाल बनाया गया था। तत्कालीन मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह के कार्यकाल में अनुसुइया मंत्री रह चुकी हैं। वे महिला आयोग की अध्यक्ष रह चुकी हैं।

 

उइके ने ली सोमवार को शपथ

उधर, छत्तीसगढ़ से खबर है कि अनुसूइया उइके ने सोमवार को छत्तीसगढ़ की पहली महिला राज्यपाल के रूप में शपथ ले ली। चीफ जस्टिस ने उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। इसी तरह मध्यप्रदेश में आनंदबेन के उत्तरप्रदेश तबादले के बाद लालजी टंडन ने भी सोमवार को भोपाल स्थित राजभवन में पद एवं गोपनीय ता की शपथ ली। मध्यप्रदेश के चीफ जस्टिस ने उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।

छिंदवाड़ा मॉडल की तारीफ कर चर्चाओं में आई थी अनुसूइया
अनुसुइया उइके ने मध्यप्रदेश में कमलनाथ के छिंदवाड़ा की तारीफ कर अपनी ही पार्टी को असहज स्थिति में खड़ा कर दिया था। उइके ने राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग की उपाध्यक्ष अनुसुइया उइके ने कमलनाथ के छिंदवाड़ा मॉडल पर लिखी किताब का विमोचन किया था। इस दौरान उन्होंने वहां हुए विकास की जमकर सराहा की थी। उइके के मुताबिक मध्य प्रदेश के तमाम शहरों में जाती हूं, पूरे देश में घूमती हूं, छिंदवाड़ा सबसे अलग और साफ शहर नजर आता है। उइके के बयान के बाद राजनीतिक घमासान तेज हो गया था।



Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned