रात 3 बजे धमकी भरा मैसेज 8वीं की छात्रा को बुलाया, अपहरण कर किया दुष्कर्म

रात 3 बजे धमकी भरा मैसेज 8वीं की छात्रा को बुलाया, अपहरण कर किया दुष्कर्म

Ravikant Dixit | Publish: Sep, 05 2018 01:40:13 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

फूटा गुस्सा, थाना घेरा, ब्राह्मण समाज का आरोप-मुख्यमंत्री के कहने पर बचा रहे आरोपी को

भोपाल. हबीबगंज इलाके के शिवाजी नगर से रात तीन बजे कार सवार तीन आरोपियों ने 8वीं की छात्रा का घर से अपहरण कर दुष्कर्म किया। करीब दो घंटे तक आरोपी छात्रा को कार में घुमाता रहा। इसके बाद साकेत नगर इलाके में कार में ज्यादती की। पुलिस ने मामले में तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। घटना की भनक लगने के बाद लोगों का गुस्सा फूट पड़ा।

ब्राह्मण समाज से जुड़े संगठनों ने मंगलवार दोपहर हबीबगंज थाने का घेराव कर सड़क पर जाम कर दिया। इन लोगों ने आरोप लगाया कि गिरफ्तार आरोपियों में एक आरोपी का पिता खुद को मुख्यमंत्री का भाई बताता है। पुलिस उसे बचा रही है। पुलिस ने कोर्ट में आरोपियों का रिमांड नहीं मांगा। कोर्ट ने तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया। कोर्ट परिसर में नावेद ने किसी वकील को अपशब्द कह दिए। इस पर वकील आरोपियों पर टूट पड़े।बीच-बचाव में दो पुलिसकर्मी मामूली रूप से घायल हो गए।

अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के प्रदेश अध्यक्ष पुष्पेन्द्र मिश्रा ने आरोप लगाया कि छात्रा के साथ गैंगरेप हुआ है। मिश्रा ने दावा किया कि आरोपी अनमोल के पिता हरनाम सिंह उर्फ गुड्डू सेठ बकतरा के सरपंच हैं। पुष्पेन्द्र का आरोप है कि गुड्डू सेठ ने खुद को मुख्यमंत्री का भाई बताकर पुलिस को धमकाया है। टीआई हबीबगंज वीरेन्द्र सिंह चौहान ने कहा कि आरोपी अनमोल के पिता बेटे की जानकारी लेने थाने आया था, इसके बाद वह चुपचाप चला गया।

इंस्टाग्राम में धमकी भरा मैसेज कर घर से बाहर बुलाया

मैं आठवीं की छात्रा हूं। शिवाजी नगर में रहती हूं। छह साल से मेरा परिचय मोहल्ले के रोहित खंगार पिता डालचंद (19) से है। 28 अगस्त की रात करीब तीन बजे मोबाइल देखा तो इंस्टाग्राम में रोहित का धमकी भरा मैसेज था। घर के बाहर नहीं निकलने पर जान से खत्म करने की धमकी वाला मैसेज था। मैं निकली तो बाहर गोल्डन कलर की कार थी। उसमें रोहित, अनमोल सिंह चौहान व नावेद थे। अनमोल और रोहित ने मुझे घसीटते हुए कार में बैठा लिया। थोड़ी दूर जाकर रोहित और अनमोल कार से उतर गए। नावेद मुझे कार से साकेत नगर की तरफ ले गया। सूनसान में कार में दुष्कर्म किया। विरोध करने पर आरोपी जान से मार देने की धमकी देता रहा। करीब दो घंटे बाद किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देते हुए मुझे घर के पास छोड़कर वह फरार हो गया। मैं इतनी डरी-सहमी थी किसी को कुछ नहीं बताया।

-पीडि़त छात्रा, (जैसा पुलिस को दिए बयान में लिखाया)

पूछने पर बताई पीड़ा

छात्रा इतनी सहम गई थी कि उसने स्कूल जाना बंद कर दिया था। इंदौर से आए उसके भाई ने स्कूल नहीं जाने की वजह पूछी। तब छात्रा ने अपने बड़े भाई को आप बीती बताई। 2 सितंबर को माता पिता ने हबीबगंज थाने में केस दर्ज कराया।

Ad Block is Banned