नए साल में रियल टाइम मीटर से होगी रीडिंग, एवरेज बिल की झंझट से मुक्त होंगे उपभोक्ता

बिजली बिल रीडिंग में होने वाली गलतियों से उपभोक्ताओं को मिलेगी निजात, नए साल में एवरेज बिल की झंझट होगी दूर, रियल टाइम मीटर मशीन से ली जाएगी रीडिंग।

By: Faiz

Published: 28 Dec 2020, 06:47 PM IST

भोपाल/ राजधानी के बिजली उपभोक्ताओं के यहां रियल टाइम मीटर रीडिंग की शुरुआत होगी। मध्य प्रदेश मध्य विद्युत वितरण कंपनी ने इसकी तैयारी कर ली है। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से इस नई व्यवस्था की शुरुआत अगले माह यानी नए वर्ष से की जाने की उम्मीद है।

 

पढ़े ये खास खबर- कल से लागू हो जाएगा लव जिहाद के खिलाफ कानून, शिवराज सरकार लाएगी अध्यादेश


बिजली बिलों की रीडिंग में नहीं होगी गलती

रियल टाइम मीटर रीडिंग में बिजली बिलों की रीडिंग में होने वाली किसी भी गलती को रोका जा सकेगा। इसके बाद उपभोक्ताओं को रीडिंग में गड़बड़ी की शिकायत नहीं रहेगी। अभी तक स्पॉट रीडिंग के समय मीटर रीडिंग लेकर मशीन में डालता है। नई व्यवस्था लागू होने के बाद रीडिंग सीधे मशीन में आ जाएगी। शहर भर में करीब 160 मशीनों की मदद से रीडिंग ली जाएगी।

 

पढ़े ये खास खबर- नियमों में बदलाव : पुलिसकर्मी की असमय मौत पर फैमिली को मिलेगी रिटायरमेंट के समय वेतन की आधी पेंशन

 

तत्काल दर्ज होगी जानकारी

रियल टाइम मीटर रीडिंग के लिये एनालॉग मशीनों का उपयोग किया जाएगा। इसमें स्मार्ट चिप को बिजली कंपनी के सिस्टम सर्वर से कनेक्ट किया जाएगा, जिसकी मदद से रियल टाइम मीटर रीडिंग जनरेट हो सकेगी। ये ठीक उस समय की रीडिंग होगी। जब कार्ड को मीटर में लगाया जाएगा। खास बात ये है कि, ये रीडिंग तत्काल ही बिजली कंपनी के सर्वर पर भी दर्ज हो जाएगी। इसमें उपभोक्ता आरोप नहीं लगा सकेगा कि, उसके यहां की रीडिंग लगत हुई है।

एनालॉग मशीन से ली जाएगी रीडिंग

मौजूदा समय में स्पॉट बिल मीटर रीडंग से उपभोक्ता को तत्काल बिल तो दिया जाता है, लेकिन, ऑनलाइन इसकी रीडिंग बाद में अपडेट होती है। इस प्रक्रिया में तीन-चार दिन का समय लग जाता है, लेकिन रियल टाइम मीटर रीडिंग में ऐसा नहीं होगा। जैसे ही मीटर रीडर एनालॉग मशीन से रीडिंग लेग ये तत्काल कंपनी के सर्वर पर पहुंचेगी और इसके बाद कभी भी उपभोक्ता ऑनलाइन बिल जमा कर सकेगा। उसे बिल के अपडेट होने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

 

पढ़े ये खास खबर- MP के युवाओं को सौगात, नए साल में पुलिस विभाग में निकलने जा रही हैं हजारों पदों पर नौकरी

 

एवरेज बिल की जांच

भोपाल के बिजली मीटर रीडिंग में हेराफेरी को रोकने के लिये अब बिजली विभाग द्वारा सख्त कदम उठाने की तैयारी कर ली है। इसके चलते शहर में आने वाले एवरेज बिलों की जांच भी की जाएगी। इन दिनों हर माह दस फीसदी से अधिक बिल एवरेज होते हैं। इस तरह का मामला मध्य प्रदेश के ग्वालियर में सामने आया था, जहां पर कई माह रीडिंग न लेने के बाद अचानक रीडिंग न लेने के बाद अचानक रीडिंग लेकर बिल बनाया गया था, जो हजारों रुपयों में आया था।

 

पुलिस नियमों में होगा बड़ा बदलाव, देखें Video

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned