राहत: प्रदेश में 66 प्रतिशत जनसंख्या का सर्वे, केवल 655 लोग कोरोना पॉजिटिव

प्रदेश में 12 हजार 481 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं।

By: Pawan Tiwari

Published: 11 Jul 2020, 08:41 AM IST

भोपाल. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने कहा- प्रदेश में कोरोना से मृत्यु दर में गत एक सप्ताह में उल्लेखनीय गिरावट आयी है। इस दौरान 2053 पॉजीटिव प्रकरणों में 22 की मृत्यु हुई, जो 1.1 प्रतिशत है। प्रदेश में कोरोना के इलाज की सर्वोत्तम व्यवस्था सुनिश्चित कर प्रयास किए जा रहे है कि कोरोना का प्रत्येक मरीज स्वस्थ होकर घर जाए। अभी तक प्रदेश में 12 हजार 481 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं।

प्रदेश में कोरोना को जड़ से समाप्त करने के लिए चलाए जा रहे किल कोरोना अभियान के अंतर्गत अभी तक 66 प्रतिशत जनसंख्या का सर्वे कार्य पूरा कर लिया गया है। इस दौरान 55 हजार 799 सैम्पल लिए गए है, जिनमें से 655 पॉजीटिव आए हैं, पॉजिटिविटी रेट 1.17 प्रतिशत है।

बिना स्क्रीनिंग कोई न आए सीमा पार से
झाबुआ जिले की समीक्षा के दौरान पाया गया कि वहां से गुजरात राज्य के दाहौद जिले में आने-जाने से संक्रमण की आशंका है। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि कोई भी बिना स्क्रीनिंग के जिले की सीमा से न आए तथा बिना बताए वहां न जाए। मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने निर्देश दिए कि जिले में कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग पर अधिक ध्यान दिया जाए। जिले में वर्तमान में 23 एक्टिव प्रकरण है, 15 स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं।

नए प्रकरण कैसे रूकें इस पर ध्यान दें
शाजापुर जिले में गत 3-4 दिनों में नए प्रकरण आए हैं। जिले में एक्टिव मरीज 36 हैं तथा 55 स्वस्थ हुए हैं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि इस बात पर ध्यान दिया जाए कि नए प्रकरण कैसे रूकें। पॉजीटिव प्रकरणों में 24 घंटे के अंदर कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की जानी चाहिए।

टैस्टिंग निरंतर बढ़ रही है
प्रमुख सचिव किदवई ने बताया कि प्रदेश में कोरोना टैस्टिंग निरंतर बढ़ रही है। अब यह बढ़कर 11 हजार 261 प्रतिदिन हो गई है। किल कोरोना अभियान के अंतर्गत बड़ी संख्या में सैम्पल लिए जा रहे हैं।

'सार्थक लाइट एप' का उपयोग करें
कोरोना नियंत्रण में 'सार्थक लाइट एप' अत्यंत उपयोगी है। इसके माध्यम से प्रदेश में अभी तक 65 हजार व्यक्ति अपना पंजीयन करवा चुके हैं, इनमें से 5 को भर्ती कर उनका इलाज किया जा रहा है। एप के माध्यम से कोई भी व्यक्ति कोरोना टेस्ट, इलाज की नि:शुल्क सुविधा प्राप्त कर सकता है।

कालाबाजारी हुई तो छोड़ूंगा नहीं
मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ जिलों से खाद की कमी की शिकायतें आ रही हैं। प्रदेश में पर्याप्त मात्रा में खाद उपलब्ध है। हर किसान को उनकी आवश्यकता के अनुसार खाद दिया जाना सुनिश्चित किया जाए। यदि किसी ने कार्य में गड़बड़ी की अथवा कालाबाजारी की तो उन्हें छोडूंगा नहीं। कालाबाजारी करने वालों के विरूद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही की जाएगी।

coronavirus
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned