जल्द ट्रेन में सफर करने के लिये रिजर्वेशन की नहीं पड़ेगी जरूरत, रेलवे कर रहा है अनारक्षित ट्रेनें चलाने की तैयारी

रिजर्वेशन की झंझट जल्द होगी खत्म : कोरोना काल के खत्म होते ही रेलवे देगा सौगात! तुरंत टिकट लेकर यात्रा कर सकेंगे यात्री।

By: Faiz

Published: 26 Dec 2020, 07:37 PM IST

भोपाल/ रेलवे द्वारा बिना रिजर्वेशन वाली ट्रेनें चलाने की तैयारी की जा रही है। ये ट्रेनें पूरी तरह जनरल कोच वाली होंगी। इन ट्रेनों में यात्री तुरंत टिकट खरीदकर सफर कर सकेगा। हालांकि, ये कोई लोकल ट्रेनें नहीं होंगी। पहले फेस में ये ट्रेनें एक से दूसरें मंडल के बीच आने वाले स्टेशनों के बीच चलाई जाएंगी। अगर ये व्यवस्था सफल रहेगी तो, इन ट्रेनों को एक मंडल से दूसरे मंडल के बीच सीमित दूरी के लिये भी चलाया जाएगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- 'रामायण यात्रा' विशेष ट्रेन कराएगी देश के धार्मिक स्थलों के दर्शन, 5 रातें 6 दिन का होगा टूर, जानिये किराया और समय

 

देखें खबर से संबंधित वीडियो...

अनारक्षित ट्रेनें चलाने का मकसद

रेलवे के जानकारों की मानें तो, कोरोना वैक्सीन आने के बाद इन्हें कभी भी शुरु किया जा सकता है। हालांकि, भारतीय रेलवे की ओर से इसकी सभी तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। इस संबंध में सभी रेल मंडलों से जानकारियां भी जुटाई जा चुकी हैं। अनारक्षित ट्रेनें चलाने के पीछे रेलवे का मकसद आरक्षित ट्रेनों में लंबी दूरी का सफर तय करने वाले यात्रियों को जल्द से जल्द अंतिम स्टेशन तक पहुंचाना है।

 

पढ़ें ये खास खबर- अलविदा 2020 : लॉकडाउन में सबसे ज्यादा परेशान हुए थे ये लोग, परिवहन सेवाएं बंद होने से पैदल तय किया था हजारों कि.मी का सफर


जल्द सफर तय करने लगेंगी मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें

मौजूदा समय में आरक्षित ट्रेनों के अंदर तीन से चार जनरल कोच लगे होते हैं। इनमें सफर करने के लिये रिजर्वेशन करना पड़ता है। कोरोना संक्रमण के पहले इन जनरल कोच में सीधे टिकट लेकर सफर किया जा सकता था। रेलवे बोर्ड के एक अधिकारी ने बताया कि, मेल व एक्सप्रेस ट्रेनें आरक्षित होती हैं। लेकिन, उनमें लगे जनरल कोचों की वजह से स्थानीय यात्री भी सफर करते हैं, उनके लिये ट्रेन को छोटे स्टेशनों पर भी रोकना पड़ता है। इस तरह उक्त ट्रेनों में 500 से 1000 कि.मी का सफर तय करने वाले 90 फीसदी यात्रियों को परेशान होना पड़ता है। कई यात्रियों ने इस संबंध में रेलवे से शिकायत की है कि, वो इस समस्या के चलते अंतिम स्टेशन तक पहुंचने में बहुत लेट हो जाते हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- अलविदा 2020 : इस साल यूनेस्को ने वर्ल्ड हेरिटेज की सूची में एमपी के 2 शहरों को किया शामिल, पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा


भोपाल मंडल- यहां दौड़ सकती है अनारक्षित ट्रेनें

इटारसी-बीना, इटारसी-कटनी, बीना-नागदा, बीना-गुना, इटारसी-भोपाल और भोपाल-इंदौर के बीच ये अनारक्षित ट्रेनें चलाई जा सकती हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- अलविदा 2020 : दुनिया के हर इंसान को जीवनभर याद रहेगा 'लॉकडाउन', हमने जाना किसे कहते हैं बंद


फिलहाल 12 ट्रेनों में लगते हैं 48 कोच

भोपाल रेल मंडल से सामान्य दिनों में 12 ट्रेनें चलती हैं। एक ट्रेन में 4 कोच के हिसाब से 48 जनरल कोच लगे होते हैं। हालांकि, कोरोना के कारण इन कोचों में भी सफर करने के लिये यात्री को रिजर्वेशन कराना पड़ रहा है। लोकल में सफर करने वाले यात्रियों को कम समय में ज्यादा ट्रेनें मिल सकेंगी। मिडिल क्लास के लिये भी ज्यादा ट्रेनों का विकल्प होगा।

 

बिना रिजर्वेशन वाली ट्रेने चलाएगा रेलवे, तुरंत टिकट लेकर यात्रा कर सकेंगे यात्री- video

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned