सड़कें चौड़ी फिर भी निकलना मुश्किल

समस्या: दुकानदार सड़क पर सामान रखकर कर रहे कब्जा, निगम की कार्रवाई बेअसर

भोपाल. संत नगर में अतिक्रमण की समस्या विकराल रूप धारण करती जा रही है। यहां जगह-जगह खड़े सब्जी और फल-फूल के ठेला वालों के साथ ही दुकानदारों ने अतिक्रमण कर रखे हैं। दुकानदार दुकानों के बाहर सार्वजनिक मार्ग तक पर कब्जा कर सामान फैला रखे हैं।

शहर के मुख्य मार्ग सहित बाजार में अतिक्रमण होने से सड़कें तक संकरी हो गई हैं। ऐसे में यहां से वाहन चालक तो दूर पैदल निकलना तक मुश्किल हो गया है। मुख्य मार्ग लेकर गलियों तक के यही हालात हैं। नगर निगम के अतिक्रमण विरोधी अमले द्वारा की जा रही कार्रवाई भी बेअसर साबित हो रही है।

 

गौरतलब है कि उपनगर के कपड़ा व्यवसाइयों द्वारा अतिक्रमण की सारी हदें पार करते हुए दुकान के बाहरी हिस्से के अलावा सड़कों तक पुतलोंं को सजावट कर खड़ा कर दिया गया है। इससे लोगों को आवागमन में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पुरानी सब्जी मंडी मार्ग से लेकर संत हिरदाराम शॉपिंग काम्पलेक्स तक स्थित सभी दुकानदारों ने सड़क तक कब्जा कर रखा है। यहां की सड़क चौड़ी होने के बाद भी अतिक्रमण के चलते संकरी हो गई हैं।

व्यापारियों के कब्जे के कारण सड़क पर खड़े वाहनों के कारण पैदल निकलना तक मुश्किल हो गया है। इसके अलावा मिनी मार्केट, संत हिरदाराम मार्केट, इलाहाबाद बैंक रोड, स्टेशन रोड सहित मुख्य मार्ग के दुकानदारों ने कब्जा कर रखा है। आम नागरिकों के पैदल निकलने वाले रास्ते पर व्यापारियों ने सामान फैला रखा है।

 

कई शहरों में ठेले वालों के लिए एक लाइन मेनटेन की गई है, जिसके आगे ठेला लगाने पर कार्रवाई होती है। उसी तरह बैरागढ़ में भी होना चाहिए, ताकि यातायात व्यवस्था सुधर सके।
सोनू तिवारी, राहगीर

उपनगर की यातायात व्यवस्था सुधारने में नगर निगम नाकाम रहा है। मुख्य मार्ग सहित बाजारों में जाम लगता है। दुकानदारों द्वारा सामान रोड़ तक फैलाया जाता है और वाहन पार्किंग होती है।
राहुल नागर, ग्राहक

मैं जब भी बैराग? खरीददारी करने के लिए आता हूँ जाम के कारण परेशानी होती है। यहां पर प्रदूषण ब?ते जा रहा है। इसके लिए सब्जी ठेले, अतिक्रमण और वाहनों को व्यवस्थित करना चाहिए।
कृष्णा विश्वकर्मा, ग्राहक

Rohit verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned