राम मंदिर की प्लानिंग को लेकर फिर भोपाल आए मोहन भागवत, संघ पदाधिकारियों से की चर्चा

भोपाल के लगातार संपर्क में हैं संघ प्रमुख, इस बार सरकार्यवाह भैयाजी जोशी के साथ आए संघ प्रमुख...।

By: Manish Gite

Published: 30 Nov 2020, 05:22 PM IST

भोपाल। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) के चीफ मोहन भागवत एक बार फिर भोपाल पहुंचे। इस बार उनके साथ सर कार्यवाह सुरेश भैयाजी जोशी भी साथ थे। पिछले कुछ माह से संघ प्रमुख लगातार भोपाल पहुंच रहे हैं। इस बार का दौरा उनका बेहद खास माना जा रहा है। वे अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की विशेष प्लानिंग में जुटे हुए हैं।

 

mohan-bhagwat.jpg

साथ-साथ भोपाल पहुंचे

मोहन भागवत और भैयाजी जोशी सोमवार सुबह समता एक्सप्रेस से नागपुर से भोपाल पहुंचे। स्टेशन पर उतरने के बाद वे सीधे संघ के कार्यालय 'समीधा' पहुंचे। सुबह कुछ देर आराम करने के बाद भागवत ने चुनिंदा पदाधिकारियों को समीधा बुलवाया। माना जा रहा है कि भागवत और जोशी ने राम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह को लेकर चर्चा की। इसके लिए प्रदेश के हर जिले में एक दर्जन लोगों की जिम्मेदारी तय की गई, जो धन संग्रह के लिए लगातार प्रयास करेंगे। इसमें संघ के साथ ही विश्व हिन्दी परिषद के पदाधिकारियों को भी आगे रखा जाएगा। हिन्दी वादी कुछ अन्य संगठनों को भी इसमें साथ लेकर काम करने को कहा गया है। ऐसी चर्चा है कि 15 जनवरी से 27 फरवरी तक मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में एक साथ राम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह का काम किया जाएगा।

 

mohan_bhagwat.png

 

संघ प्रमुख का मध्यप्रदेश दौरा बेहद खास माना जा रहा है। अपने ताजा दौरे में भागवत ने संघ से जुड़े कुछ खास पदाधिकारियों से बातचीत की है। माना जा रहा है कि उन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए संघ के पदाधिकारियों को फंडिंग का टास्क दिया है। हालांकि उनके आने से पहले ही भोपाल में राम मंदिर निर्माण के लिए धन संग्रह को लेकर एक बैठक हो चुकी थी। उसमें भी राम मंदिर निर्माण समेत कई मुद्दों पर भी मोहन भागवत और सर कार्यवाह सुरेश भैयाजी जोशी ने पदाधिकारियों से चर्चा की थी।

 

 

लव जिहाद कानून पर विहिप करेगा अगुवाई

सूत्रों के मुताबिक इसके अलावा लव जिहाद के मामले पर भी यहां चर्चा हुई। बताया जाता है कि संघ सीधे तौर पर आगे नहीं आएगा। विहिप और मध्यप्रदेश में सक्रिय छोटे-छोटे हिन्दू संगटनों को आगे किया जाएगा, जो इस पर काम करेगा। साथ ही इस तरह का मामला दिखाई या सुनाई देने पर ये संगठन जिला प्रशासन और पुलिस को सूचना देने का काम भी करेगा।

Ram Mandir
Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned