Breaking: कांग्रेस के दिग्गज नेता का निधन, पार्टी में शोक की लहर

Breaking: कांग्रेस के दिग्गज नेता का निधन, पार्टी में शोक की लहर

By: Manish Gite

Updated: 19 Jan 2019, 12:42 PM IST


भोपाल। पूर्व राष्ट्रपति समेत कई जमीनी नेताओं के साथ काम करने वाले कांग्रेस के कद्दावर नेता का देर रात को निधन हो गया। भोपाल के एक निजी अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके निधन से भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों ने शोक व्यक्त किया है। कांग्रेस नेता के निधन के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट कर शोक संवेदना व्यक्त की है।

मध्यप्रदेश के कद्दावर नेता अशोक जैन 'भाभा' का शुक्रवार देर रात को निधन हो गया। वे कई दिनों से बीमार थे। भाभा जमीनी स्तर के नेता माने जाते हैं। तत्कालीन राष्ट्रपति डा. शंकर दयाल शर्मा के साथ शुरुआती राजनीति की। इनके अलावा चतुरनारायण शर्मा, सत्यनारायण अग्रवाल और रसूल अहमद सिद्दिकी के साथ काम करते थे।

 

bhabha

भोपाल नगर पालिका के प्रथम अध्यक्ष
भोपाल की जमीनी राजनीति करने वाले अशोक जैन भाभा भोपाल नगर पालिका के प्रथम अध्यक्ष चुने गए थे। वे पार्षद से लेकर भोपाल विकास प्राधिकरण (बीडीए) के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। इसके अलावा जिला कांग्रेस से लेकर प्रदेश कांग्रेस में भी कई पदों पर रहे। वे 25 सालों तक जैन समाज की दिगम्बर जैन समाज समिति के प्रमुख पदों पर रहे।

 

एक बेटा पार्षद एक विदेश में
अशोक जैन भाभा के एक पुत्र वात्सायन जैन भाभा भी राजनीति में हैं। वे भोपाल के वार्ड 21 से पार्षद हैं। दूसरा बेटा विदेश में नौकरी करता है। पिता के निधन की खबर सुनते ही उनका दूसरा बेटा भी विदेश से भोपाल पहुंच गया है।

कई दिग्गज नेताओं ने व्यक्त किया शोक
कांग्रेस नेता के निधन से कांग्रेस पार्टी में भी शोक की लहर है। मध्यप्रदेश के अल्पसंख्यक एवं गैस राहत मंत्री आरिफ अकील, महापौर आलोक शर्मा देर रात को अस्पताल पहुंच गए थे। इनके अलावा कई नेताओं ने शोक व्यक्त किया है। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता केके मिश्रा ने भी अशोक जैन को इमानदार और स्वच्छ छवि का नेता बताते हुए उनके निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।

जैन समाज में शोक की लहर
जैन समाज के नेता के निधन से समाज में भी शोक की लहर है। अशोक जैन भाभा के पूर्वज नवाबी दौर से पुराने भोपाल में ही रहते थे। फूलचंद-मूलचंद के नाम से जड़ीबूटियों की दुकान भी उन्हीं के परिवार के लोग चलाते हैं, जो काफी प्रसिद्ध है। पुराने भोपाल में रहने वाले जैन समाज के लोग उनके निवास पर पहुंच गए हैं। छोला विश्राम घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जा रहा है। वे काजीपुरा निवासी हैं, परंतु कुछ वर्षों से वे लालघाटी स्थित जैन नगर में निवासरत हैं।

Congress Kamal Nath
Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned