एससी/एसटी के वार्ड रहेंगे वही, ओबीसी के 21 वार्ड हो जाएंगे अनारक्षित, लॉटरी से तय होंगे बाकी वार्ड

- आज समन्वय भवन में दोपहर तीन बजे से है वार्ड आरक्षण की प्रक्रिया, लोगों के लिए लगेगी बाहर एलईडी,

- कोरोना के चलते सीमिति लोगों को मिलेगा प्रवेश, मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई

 

 

भोपाल। तीन बार टली नगर निगम वार्ड आरक्षण की प्रक्रिया आज टीटी नगर स्थित समन्वय भवन में दोपहर तीन बजे से होगी। उपजिला निर्वाचन अधिकारी संजय श्रीवास्तव ने बताया कि वार्ड आरक्षण प्रक्रिया के लिए भवन के बाहर एक बड़ी एलईडी लगाई जाएगी। सीमित लोगों को ही अंदर प्रवेश मिलेगा। नगर निगम के 85 वार्डों में आरक्षण को लेकर पिछली बार पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित रहे 21 वार्डों को इस बार अनारक्षित हो जाएंगे। अनारक्षित रहे 50 वार्डों में से 21 वार्डों को पिछड़ा वर्ग में शामिल किया जाएगा। इधर एससी और एसटी के वार्डों में बदलाव नहीं किया गया है। बाकी वार्डों को लेकर पर्ची सिस्टम से तय होगा।

पिछली बार 21 वार्डों को पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित किया गया था, जिसमें 11 महिलाओं के लिए आरक्षित थे। इसी तरह अनारक्षित वार्डों की संख्या 50 थी। जिसमें 24 महिलाओं के लिए आरक्षित थे।

पिछले चुनाव में वार्ड-2, 7, 12, 14, 17, 19, 22, 24, 32, 34, 38, 41, 42, 44, 51, 52, 54, 64, 69, 70 और वार्ड-78 कुल 21 वार्ड पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित थे। जो अब अनारक्षित रहेंगे। जबकि पिछड़ा वर्ग के 21 वार्डों को निकालने के लिए एससी के 12, एसटी के 2 और पिछड़ा वर्ग के रहे 21 वार्डों को छोड़कर लॉट से 21 पर्चियां निकाली जाएंगी।

- महिला आरक्षण से मुक्त रहेंगे यह वार्ड
पिछले चुनावों में जिन वार्डों को अनारक्षित वर्ग की महिलाओं को पार्षद उम्मीदवार बनाया गया था। उन्हें इस बार महिला आरक्षण से मुक्त रखा गया है। ये वार्ड हैं 1, 4, 5, 6, 9, 13, 15, 16, 18, 25, 29, 30, 36, 39, 40, 55, 57, 58, 62, 66, 72, 73, 77 और वार्ड-83 कुल 24 वार्डों को अनारक्षित महिला से मुक्त रखा जाएगा। 12 वार्ड एससी के लिए आरक्षित रहेंगे, जिसमें वार्ड-10, 11, 28, 47, 48, 49, 50, 53, 59, 63, 76 और वार्ड 81 को एससी केटेगरी में हैं।

प्रवेंद्र तोमर Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned