ऑनलाइन क्लासेज अटेंड करने के लिए स्कूल से मिलेगा 'स्मार्टफोन', बाद में करना होगा जमा

इन मोबाइल फोन की कीमत को विद्यार्थी की त्रैमासिक फीस में जोड़कर बिना ब्याज वसूला जाएगा....

By: Ashtha Awasthi

Published: 22 Jul 2021, 12:01 PM IST

भोपाल। ऑनलाइन पढ़ाई के दौर में हर विद्यार्थी तक शिक्षा पहुंच सके, इसके लिए मप्र के केंद्रीय विद्यालय संगठन ने सकरात्मक कदम उठाया है। प्रबंधन की ओर से अपने स्कूल के आर्थिक रूप कमजोर परिवारों के विद्यार्थियों की सूची बनाई जा रही है। ऐसे विद्यार्थियों को स्कूल की ओर से स्मार्ट फोन प्रदान किए जाएंगे, जिससे वे निरंतर ऑनलाइन कक्षाओं में शामिल हो सकें।

बिना ब्याज किस्तों में की जाएगी वसूली

प्रत्येक विद्यालय अपने फंड से स्मार्ट मोबाइल फोन खरीदकर कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों को देगा। इन मोबाइल फोन की कीमत को विद्यार्थी की त्रैमासिक फीस में जोड़कर बिना ब्याज वसूला जाएगा। जिससे परिवारों पर आर्थिक बोझ नहीं पड़ेगा। वहीं शिक्षकों को उपलब्ध कराए जा रहे उच्च गुणवत्ता के टेबलेट्स से वे कहीं से भी बेहतर तरीके से ऑनलाइन कक्षाएं लेने के साथ प्रेजेंटेशन प्रोजेक्ट आदि तैयार कर सकेंगे।

यह टेबलेट्स विद्यालय की सम्पत्ति होंगे, जिन्हे शैक्षणिक सत्र के बाद विद्यालय में जमा करना होगा। यह योजना प्रदेश के सभी केन्द्रीय विद्यालयों में लागू की गई है। इसका सबसे बड़ा फायदा होगा कि कक्षा का कोई भी बच्चा ऑनलाइन पढ़ाई से बाहर नहीं होगा और उसका कोर्स समय पर पूरा हो सकेगा।

mobile_apps.jpg

दिन में तीन कक्षाएं, ऑफिस टाइम में समस्या

केन्द्रीय विद्यालय संगठन की ओर से प्राथमिक कक्षाओं के विद्यार्थियों की एक दिन में तीन कक्षाएं ली जाती हैं। वहीं माध्यमिक और उच्च कक्षाओं में यह संख्या चार तक होती है। ऐसे में स्मार्टफोन की अनुपलब्धता वाले विद्यार्थी तो पढ़ाई से पूरी तरह कट ही रहे हैं. वहीं जिन परिवारों में एकमात्र स्मार्टफोन कमाऊ व्यक्ति के पास ही रहता है, उन परिवारों में भी बच्चे केवल कार्यालयीन समय के पहले ही एक या दो कक्षाएं ही अटैंड कर पा रहे हैं। आर्थिक रूप से सक्षम नहीं होने के चलते परिवार मोबाइल खरीद भी नहीं पा रहे थे। यह योजना ऐसे विद्यार्थियों और परिवारों की समस्या हल कर देगी।

प्रभा गुप्ता, पीआरओ, केन्द्रीय विद्यालय संगठन का कहना है कि कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों को ऑनलाइन क्लासेज अटेंड करने में समस्या न आए इसलिए प्रत्येक कक्षा से ऐसे विद्यार्थियों का चयन किया गया है। प्राचार्य ऐसे विद्यार्थियों की सूची को अंतिम रूप देकर इन्हें स्कूल की ओर से स्मार्ट फोन उपलब्ध करा रहे हैं।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned