पीएम मोदी के साथ सिंधिया की तस्वीर, गरमाई सियासत

पीएम मोदी के साथ सिंधिया की तस्वीर, गरमाई सियासत
,,

Deepesh Awasthi | Updated: 12 Oct 2019, 09:34:18 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर आए सिंधिया के पक्ष में

भोपाल। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह के साथ कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की तस्वीर वाले पोस्टर से राजनीति गरमा गई है। भिण्ड इलाके में सिंधिया के स्वागत में यह पोस्टर लगाए गए हैं। इससे भाजपा को हमलावर होने का मौका मिल गया।

यह पोस्टर ऐसे समय में आया है जब ज्योतिरादित्य सिंधिया की नाराजगी खबरें चर्चा में है। विधानसभा चुनाव के समय सिंधिया खुद को सीएम पद का दावेदार मान रहे थे, लेकिन मुख्यमंत्री की कुर्सी कमलनाथ को मिली। इससे सिंधिया समर्थकों की नाराजगी सामने आए थी। इसमें पार्टी के कुछ विधायक भी शामिल रहे। कमलनाथ राज्य के मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भी है। सिंधिया खेमे ने हार नहीं मानी है। यह खेमा समय-समय पर सक्रिय हो जाता है। सिंधिया खेमा चाहता है कि सिंधिया को अब प्रदेश कांग्रेस की कमान दे देना चाहिए।

सिंधिया के भिण्ड दौरे की बात की जाए तो वे भिण्ड दौरा पहली बार नहीं है, इसके पहले भी ये वहां पहुंचते रहे हैं, लेकिन इस बार नरेन्द्र मोदी और अमित शाह के साथ वाले पोस्टर से यह दौरा सुर्खियों में आया है। भाजपा ने सिंधिया के स्वागत में जो पोस्टर लगाए, उसने सियासी हवा का रुख बदलकर रख दिया है। भाजपा के पोस्टर में सिंधिया के स्वागत के साथ-साथ कुछ और सियासी बातें भी कही गई हैं। जम्मू कश्मीर के नक्शा के साथ यहां संविधान की धारा 370 हटाने को लेकर पीएम मोदी और अमित शाह को धन्यवाद देने का जिक्र है। यह पोस्टर राज्य की सियासत को गर्माने के लिए काफी है।

यह है मामला -

सिंधिया हाल ही में भिंड जिले के अटेर में बाढ़ पीडि़तों से मुलाकात करने पहुंचे थे। तो वहां बाढ़ पीडि़त क्षेत्र की स्थिति देखकर कहा कि मैं बाढ़ पीडि़तों के साथ खड़ा हूं, सरकार को भी उनके साथ खड़ा रहना होगा। यहां सरकार को नसीहत देने के साथ वे संगोष्ठी में पहुंचे तो वहां उन्होंने कहा कि किसानों के सिर्फ ५० हजार रुपए तक कर्ज माफ हुए हैं,

जबकि हमने दो लाख तक का कर्ज माफ करने की बात अपने वचन पत्र में कही थी। उन्होंने कहा कि किसानों का दो लाख रुपए तक कर्ज माफ होना चाहिए। सिंधिया ने कांग्रेस को आत्मअवलोकन करने की भी बात की थी। उनके बयान ने भाजपा को हमलावर होने का मौका दे दिया और भाजपा ने उनके स्वागत में पोस्टर लगा दिए।

शिवराज ने कमलनाथ पर साधा निशाना -

शिवराज ने सिंधिया के बहाने कमलनाथ पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट किया कि न शिवराज और न जनता, अब तो आप के ही लोग आपको आईना दिखा रहे हैं और बता रहे हैं कि कर्जमाफी नहीं हुई है। कमलनाथ को सम्बोधित करते हुए उन्होंने लिखा है कि क्या अब भी आपकी सरकार नहीं जागेगी? किसानों की आँखों के आँसू सूख गए लेकिन उनके बैंक खातों में पैसे नहीं आए।

सिंधिया के समर्थन में आए मंत्री प्रधुम्न और लाखन

प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने सिंधिया के बयान का समर्थन करते हुए कहा कि जिन किसानों का कर्ज माफ नहीं हुआ है उनका कर्ज सरकार जल्द माफ करेगी। भिंड में अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर लगाए गए होर्डिंग्स पर उन्होंने कहा कि इस बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है। उधर पशुपालन मंत्री लाखन सिंह ने सिंधिया के पोस्टर मोदी और शाह के साथ लगाए जाने के सवाल पर कहा कि भाजपा भ्रम फैला रही है। सिंधिया कभी भाजपा में नहीं जाएगे।

मंत्री सज्जन सिंह की नसीहत -
प्रदेश सरकार के लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने सिंधिया ने जो भी कहा वह सोच समझकर कहा होगा। साथ ही उन्होंने यह भी जोड़ा कि नेताओं को आत्म अवलोकन करना चाहिए, उन्होंने कांग्रेस के लिए क्या किया और हम कहां खड़े हैं। मालूम हो सिंधिया ने कहा था कि पार्टी को आत्म अवलोकन की जरूरत है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned