इंटरनेट पर प्रदेश के नेताओं की जाति जानने हो रहा सर्च

इंटरनेट पर प्रदेश के नेताओं की जाति जानने हो रहा सर्च

Harish Divekar | Publish: Oct, 20 2018 05:18:51 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

प्रदेश में कौन सी पार्टी का नेता किस जाति से है और वह अपनी जाति का कितना वोट बैंक प्रभावित कर सकता

 


प्रदेश में कौन सी पार्टी का नेता किस जाति से है और वह अपनी जाति का कितना वोट बैंक प्रभावित कर सकता है।

यह बात जानने के लिए यूजर्स इंटरनेट पर सर्च कर रहे हैं। इनकी संख्या लाखों में है।

जिन नेताओं की जाति सर्च की जा रही है इनमें शिवराज सिंह चौहान, उमा भारती, कमलनाथ, ज्योतिरादित्या सिंधिया, बाबूलाल गौर और कैलाश विजयवर्गीय शामिल हैं।
इंटरनेटर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ज्यादा छाए हैं। इंटरनेट पर एक महीने में उनके नाम को लेकर दस हजार से एक लाख के बीच हिट मिले हैं।

वहीं, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ और ज्योतिरादित्या सिंधिया भी इस मामले में शिवराज को इंटरनेट पर टक्कर दे रहे हैं। कांग्रेस से साइडलाइन कहे जाना वाले पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह की भी लोकप्रियता कम नहीं है।

इंटरनेट पर लगभग एक लाख हिट मिल रहे हैं।उनकी दूसरी शादी को लेकर इंटरनेट पर सबसे ज्यादा सर्च किया गया है।

 

 

वहीं, बाबूलाल गौर भी इंटरनेर पर सर्चिंग के मामले में टॉप पर हैं।

इंटरनेट के सहारे लड़ी जा रही जंग
देश में अब चुनाव की रणनीति पूरी तरह से बदल चुकी है। चुनाव प्रचार से लेकर पार्टी की छवि चमकाने तक, अब चुनावी जंग इंटरनेट के सहारे लड़ी जा रही है। 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद से पूरा परिदृश्य ही बदल गया है। इंटरनेट के दौर में अब उम्मीदवारों को भी हाईटेक होना पड़ रहा है। राजनीतिक दल भी टिकट बंटवारे के समय सोशल मीडिया पर नेताओं की भूमिका को अहम मान रहे हैं । जिसके जितने ज्यादा फालोवर उसको टिकट मिलने की ज्यादा संभावना।
व्यापमं का भी सर्च बढ़ा
युवा प्रदेश में इंटरनेट पर नेताओं के बारे कम और व्यापमं घोटाले को ज्यादा खो रहे हैं। चुनाव का ऐलान होने के बाद से अब तक प्रदेश में इंटरनेट पर एक करोड़ बार व्यापमं को सर्च किया गया है।

जिससे बीजेपी की चिंता बढ़ गई है। पार्टी को डर है कही व्यापमं का साया इस बार चुनाव में उसके उम्मीदवारों का खेल न बिगाड़ दे।
जानकारी के मुताबिक व्यापमं का भूत 2018 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को परेशान करने एक बार फिर लौट आया है। इंटरनेट पर धड़ल्ले से व्यापमं द्वारा भर्ती घोटाले के बारे में यूजर्स सर्च कर रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक व्यापमं को लेकर इंटरनेट पर बीते एक महीने में दस लाख से लेकर एक करोड़ हिट मिले हैं। 2013 में व्यापमं घोटाले को लेकर बीजेपी काफी चिंता में थी, लेकिन फिर भी भारी मतों से चुनाव जीती थी। लेकिन व्यापमं घोटाला एक बार फिर सरकार को परेशान करने लौट आया है। विपक्षी दल कांग्रेस भी लगातार व्यापमं मामले को लेकर बीजेपी पर हमला करती रही है। हाल ही में दिग्विजय सिंह ने कोर्ट में एक बार फिर व्यापमं मामले को लेकर याचिका दाखिल की है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned