भाजपा के गढ में सेंध लगाएगा सेवादल

प्रदेश की 30 विधानसभा सीटें की चिन्हित

Harish Divekar

September, 1311:38 PM

मध्यप्रदेश में 15 साल से वनवास भोग रही कांग्रेस सत्ता में वापस आने के लिए पूरा जोर लगा रही है। यही वजह है कि वह अपने प्रतिव्दंदी भाजपा के रणनीति को अपनाने में भी कोई गुरेज नहीं कर रही। इतना ही नहीं कांग्रेस ने अपने कमजोर सेवादल संगठन को मजबूत बनाने के लिए आरएसएस की तर्ज पर तैयार करने का निर्णय लिया है।

इसमें ड्रेस कोड से लेकर उनके संगठन विस्तार और ब्लॉक लेवल पर संगठन को खडा किया जा रहा है। कांग्रेस सेवादल के राष्ट्रीय संगठक लालजी देसाई ने कहा कि भाजपा के मजबूत किलों ढहाने की हमारी पूरी तैयारी है।

इसके लिए हमने भाजपा की उन 30 सीटों को चिन्हित किया है, जिसे भाजपा अब तक अभेद किला मानती रही है। पहुंचे देसाई ने बताया कि हमारा संगठन ने इन सीटों पर माइक्रो लेवल का काम करना शुरु कर दिया है, इसके परिणाम इवीएम में वोट के रुप में दिखाई देंगे। उन्होंने बताया कि इन सीटों पर विशेष अभियान भी चलाया जा रहा है।

सेवादल ने बूथ स्तर पर अपना नेटवर्क स्थापित किया है जिससे पार्टी को मजबूती मिली है। देसाई ने एक सवाल के जवाब में कहा कि हम आरएसएस की नकल पर कोई काम नहीं कर रहे।

हमारा संगठन सालों पुरानी रिवायतों पर ही काम कर रहा है, संघ तो झूठ की बुनियाद पर काम करता है। देसाई ने भोपाल में राहुल गांधी के प्रस्तावित 17 सितंबर के दौरे की तैयारियों का भी जायजा लिया।

सेवादल के प्रत्याशी भी होंगे मैदान में
मैदान में माइक्रो लेवल पर सक्रिय होकर अपना जाल बिछाने वाले सेवादल के पदाधिकारियों को भी कांग्रेस उम्मीदवार बना सकती हैै। इसके संकेत कुछ दिन पहले कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने दिए हैं। हालांकि, उन्होंने यह भी साफ किया है कि हमारी प्राथमिकता सिपर्फ जिताउ उम्मीदवार ही रहेगी।

इसके लिए कमलनाथ दो दौर का सर्वे करवा चुके हैं। इसमें 80 सीटों की स्थिति सापफ हो चुकी है। राहुल गांधी के दौरे के बाद प्रदेश कांग्रेस कभी भी इन सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित कर सकती है।

हालांकि इस बात की संभावना कम जताई जा रही है कि पहली सूची में सेवादल के किसी पदाधिकारी को उम्मीदवार घोषित किया जाए।

BJP Congress
harish divekar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned