scriptShiva will hand over the reins of creation to Shrihari after four mont | भगवान शिव चार माह के बाद श्रीहरि को सौंपेंगे सृष्टि की बागडोर | Patrika News

भगवान शिव चार माह के बाद श्रीहरि को सौंपेंगे सृष्टि की बागडोर

वैकुण्ठ चतुर्दर्शी कल: हरि और हर का होगा मिलन, अब भगवान विष्णु संभालेंगे सृष्टि का कार्यभार

भोपाल

Published: November 17, 2021 01:03:20 am

भोपाल. वैकुण्ठ चतुर्दर्शी का पर्व गुरुवार को श्रद्धा के साथ मनाया जाएगा। इस मौके पर शहर में जगह-जगह दीपदान होंगे। वहीं घरों और मंदिरों में भगवान विष्णु और भोलेनाथ की विशेष पूजा-अर्चना की जाएगी। इस दिन दीपदान का भी विशेष महत्व होता है। इसलिए लोगों द्वारा जगह-जगह दीपदान भी किया जाएगा। सनातन परम्परा अनुसार इस दिन भगवान भोलेनाथ भगवान विष्णु को वापस सृष्टि की बागडोर सौंपते हैं।
भगवान शिव चार माह के बाद श्रीहरि को सौंपेंगे सृष्टि की बागडोर
भगवान शिव चार माह के बाद श्रीहरि को सौंपेंगे सृष्टि की बागडोर
दरअसल चातुर्मास में देवशयनी एकादशी से देवउठनी एकादशी तक भगवान विष्णु क्षीरसागर में विश्राम करते हैं और इस दौरान सृष्टि का संचालन भगवान भोलेनाथ करते हैं। देवउठनी एकादशी पर भगवान विष्णु निद्रा से जागृत होते हैं, इसके बाद वैकुण्ठ चतुर्दर्शी पर सत्ता का दायित्व भगवान विष्णु को सौंपते हैं।
मुक्तेश्वर मंदिर से निकलेगी शोभायात्रा
वैकुण्ठ चतुर्दर्शी के मौके पर परम्परा अनुसार हरि और हर का मिलन होगा। इस मौके पर मुक्तेश्वर महाकाल मंदिर से शोभायात्रा निकलेगी जो विभिन्न मार्गों से होते हुए लखेरापुरा स्थित श्रीजी मंदिर पहुंचेगी। गोपाल पुरोहित ने बताया कि वैकुण्ठ चतुर्दर्शी पर हरि और हर के मिलन की परम्परा का निर्वाह किया जाएगा।
प्रदोष पर सेवंती, रजनीगंधा के फूलों से की सजावट
प्रदोष व्रत मंगलवार को धूमधाम से मनाया गया। कार्तिक माह के प्रदोष पर शहर के शिवालयों में भोलेनाथ का विशेष शृंगार किया गया। शहर के मुक्तेश्वर महाकाल मंदिर में मंगलवार को महाकाल का गुलाब, सेवंती, गेंदा, रजनीगंधा सहित विभिन्न प्रकार के फूलों से शृंगार किया गया।
भगवान वटेश्वर का शृंगार
शहर के बड़वाले महादेव मंदिर में भगवान वटेश्वर का भी आकर्षक शृंगार किया गया। इस दौरान फूलों से भगवान वटेश्वर का शृंगार किया गया और पूजा अर्चना हुई। शृंगार दर्शन का सिलसिला रात्रि तक चलता रहा।
दीपों से जगमग हुए अयप्पा मंदिर, भक्तों ने फूलों से सजाई रंगोली
मलयाली समाज के मकरविल्लकु महोत्सव की शुरुआत मंगलवार से हो गई। यह महोत्सव मकर संक्रांति तक चलेगा। 41 दिन तक चलने वाले इस पूजन महोत्सव के अंतर्गत अयप्पा मंदिरों में विशेष पूजा अर्चना, भागवत पारायण सहित अन्य आयोजन होंगे। इसी प्रकार 12 और 41वें दिन दीप आराधना होगी और मंदिरों को दीपमालाओं से सजाया जाएगा। मंडलम मकरविल्लकु के पहले दिन शहर के अयप्पा मंदिरों में फूलों से आकर्षक रंगोली और दीपमालाएं सजाई गई। इस दौरान पूरे मंदिर परिसर में दीपक जलाए गए और श्रद्धालुओं ने कतारबद्ध होकर पूजा अर्चना की और दर्शन किए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कततत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal LoanNew Maruti Alto का इंटीरियर होगा बेहद ख़ास, एडवांस फीचर्स और शानदार माइलेज के साथ होगी लॉन्चVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!प्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टइन 4 राशि की लड़कियां अपने पति की किस्मत जगाने वाली मानी जाती हैंToyoto Innova से लेकर Maruti Brezza तक, CNG अवतार में आ रही है ये 7 मशहूर गाड़ियां, जानिए कब होंगी लॉन्च

बड़ी खबरें

Coronavirus update: 24 घंटे में कोरोना के 3 लाख 37 हजार नए केस, 488 मौतेंUP Election 2022: पूर्वांचल के 12 हजार बूथों पर होगी निर्वाचन आयोग की पैनी नजर, किसी तरह की गड़बड़ी पलक झपकते होगी दूरClub House Chat मामले में दिल्ली पुलिस कर रही 19 वर्षीय छात्र से पूछताछ, हरियाणा से भी हुई तीन गिरफ्तारियांCorona Vaccine: वैक्सीन के लिए नई गाइडलाइंस, कोरोना से ठीक होने के कितने महीने बाद लगेगा टीकाGood News: प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस बने माता-पिता, एक्ट्रेस ने पोस्ट शेयर कर फैंस को बताया- बेबी आया है...PM Kisan: Budget 2022 में किसानों को मिल सकती है बड़ी सौगात,पीएम किसान सम्मान की रकम में हो सकती है बढ़ोतरीUP Election 2022: .. इस प्रदेश में तो आधी आबादी ही तय करती है किसकी बनेगी सरकारUP Election: भाजपा की 25 वर्षीय वह उम्मीदवार जो आ गई सुर्खियों में, पिता हाल ही में हुए थे सपा में शामिल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.