शिवराज ने लैपटॉप योजना में बदलाव पर उठाए सवाल, बोले- दिल के करीब थी योजना

शिवराज ने लैपटॉप योजना में बदलाव पर उठाए सवाल, बोले- दिल के करीब थी योजना

Alok Pandya | Updated: 12 Oct 2019, 02:53:32 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

कमलनाथ सरकार द्वारा मेधावी छात्रो को लैपटॉप देने की योजना के नियम बदले जाने के प्रस्ताव पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विरोध जताया है।

भोपाल। कमलनाथ सरकार द्वारा मेधावी छात्रो को लैपटॉप देने की योजना के नियम बदले जाने के प्रस्ताव पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विरोध जताया है। उन्होंने ट्वीटर पर कहा कि मैंने मुख्यमंत्री रहते राज्य के बच्चों में एक स्वस्थ स्पर्धा व नई ऊर्जा के साथ अध्ययन में जुट जाने के लिए प्रेरित करने हेतु लैपटॉप वितरण योजना शुरू की थी।

यह योजना मेरे दिल के बहुत करीब थी। लैपटॉप मिलने पर छात्रों ने उसका उपयोग प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी और अपने अध्ययन में किया। एेसे में सिर्फ टॉपर छात्रों को लेपटॉप देने का प्रस्ताव तैयार करना गलत है। उन्होंने आरोप लगाया कि कमलनाथ सरकार अकारण एक-एक कर उन योजनाओं को बंद कर रही है।

पत्रिका ने लैपटॉप योजना में बदलाव का मुद्दा पिछले दिनों उठाया है। सरकार १२ वीं में ७५ प्रतिशत से ज्यादा अंक लाने वाले विद्यार्थियों को लैपटॉप देने के स्थान पर हर जिले के टॉप १० छात्रो ंकेा इस योजना का लाभ देने का प्रस्ताव तैयार कर रही है। शिवराज ने इस मामले में आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार को विद्यार्थियों के भविष्य की जरा भी चिंता नहीं है।

ट्वीटर पर शुरू की प्रश्नोत्तरी-
शिवराज सिंह चौहान ने अपने ट्वीटर हैंडलर पर विद्यार्थियों से जुड़ी प्रश्नोत्तरी शुरू की है। इसमें वे विद्यार्थियों से सवाल पूछेंगे। सबसे पहले उन्होंने पूछा है कि क्या लैपटॉप वितरण योजना बंद करने से विद्यार्थियों को लाभ हुआ है? शिवराज इसके पहले किसानों से जुड़े प्रश्न भी ट्वीटर पर पूछ चुके हैं।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned