चुनावी जमावट के लिए शिवराज पुनासा, कमलनाथ जाएंगे ग्वालियर

विधानसभा उपचुनाव : दोनों दल मैदान में लगा रहे दम

By: anil chaudhary

Published: 17 Sep 2020, 05:03 AM IST

27 विधानसभा उपचुनाव के लिए दोनों प्रमुख सियासी दलों ने रणनीति तैयार कर ली है। इसके तहत बड़े नेता चुनावी जमावट करने मैदान में उतर रहे हैं। भाजपा से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खंडवा के पुनासा ओर बुरहानपुर के खकनार तो कांग्रेस से कमलनाथ ग्वालियर दौरे की तैयारी कर रहे हैं।

 

- कांग्रेस में टिकट तय करने पर चल रहा मंथन, दावेदारों की लंबी फेहरिस्त के बीच सर्वे का दांव
खंडवा. विधानसभा उपचुनाव का शंखनाद करने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुनासा दौरा तय हुआ है। हालांकि, यह तीसरी बार है, जब सीएम के दौरे की तारीख आई है। इधर, कांग्रेस में टिकट तय करने पर मंथन चल रहा है। दावेदारों की फेहरिस्त लंबी हो गई है। आलाकमान ने सर्वे के आधार पर प्रत्याशी तय करने का दांव खेला है।
सीएम 19 सितंबर को जिले के पुनासा में आएंगे। यहां आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे। तय कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री दोपहर 12.40 बजे भोपाल से हेलीकॉप्टर द्वारा प्रस्थान कर दोपहर 1.30 बजे पुनासा आएंगे तथा स्थानीय कार्यक्रमों में शामिल होंगे। 6.75 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का भूमिपूजन और 9.12 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण करेंगे। इसके बाद सीएम दोपतर तीन बजे बुरहानपुर जिले की नेपानगर के खकनार जिला बुरहानपुर के लिए प्रस्थान करेंगे। गौरतलब है कि पहले सीएम 14 सितंबर को आने वाले थे, इसके बाद 23 का कार्यक्रम आया। इस बीच अब नया कार्यक्रम आ गया है। इसी सप्ताह में आचार संहिता लगने के भी आसार हैं।
- कांग्रेस ने प्रत्याशी की नहीं की घोषणा
कांग्रेस ने मांधाता सीट पर कांग्रेस ने प्रत्याशी पर सस्पेंस बरकरार रखा है। पूर्व विधायक राजनारायण सिंह का टिकट नहीं देने पर कांग्रेस को हरवाने वाला वीडियो वायरल होने के बाद से दावेदारों ने भोपाल में डेरा डाल रखा है। अरुण यादव के चुनाव लडऩे के कयास हैं। राजनारायण के अलावा पुत्र उत्तमपाल सिंह, नारायण सिंह तोमर, श्याम यादव, अवधेश सिसौदिया, अमिताभ मंडलोई, जितेंद्र चौहान, गजेंद्र सोलंकी, राजबहादुर सिंह, सबल सिंह नायक सहित अन्य भी दावेदारी पेश कर रहे हैं।

कमलनाथ करेंगे टिकिट के दावेदारों से चर्चा
भोपाल. विधानसभा उपचुनाव में फतह के लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ रणनीति के साथ जुट गए हैं। वे आगर और सांवेर के बाद अब 18 और 19 सितंबर को ग्वालियर में कार्यकर्ता सम्मेलन करेंगे। इस सम्मेलन में अंचल की सभी 16 सीटों के कार्यकर्ताओं को बुलाया जाएगा। कमलनाथ रोड शो कर अपनी ताकत का अहसास भी कर सकते हैं।
- दूसरी सूची घोषित करने की तैयारी
कमलनाथ जल्द ही उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी करने की तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए ग्वालियर-चंबल के दौरे के दौरान वहां के टिकट के दावेदारों से भी चर्चा करेंगे। दूसरी सूची में भी बाहरी उम्मीदवारों का पेंच आ सकता है, लिहाजा कमलनाथ सभी नेताओं को भरोसे में लेकर नामों का ऐलान करेंगे। ग्वालियर से सतीश सिकरवार और सुमावली से अजब सिंह कुशवाहा कांग्रेस में शामिल हुए हैं और ऐसा माना जा रहा है कि इनको टिकट दिया जा सकता है। वहीं, मेहगांव से चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी की दावेदारी मानी जा रही है। चतुर्वेदी भले ही कांग्रेस नेता रहे हों, लेकिन लोकसभा चुनाव के समय वे भी भजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए थे। 19 सितंबर को कमलनाथ दूसरी सूची को फाइनल कर ग्वालियर से दिल्ली भी जा सकते हैं।
- रणनीति पर कार्यकर्ताओं से चर्चा
कमलनाथ ग्वालियर-चंबल की सभी 16 सीटों के कार्यकर्ताओं के साथ चुनावी रणनीति पर चर्चा करेंगे। अलग-अलग सीटों के कार्यकर्ताओं से अलग-अलग चर्चा भी की जाएगी। इसके अलावा इस अंचल के सभी दिग्गज नेताओं से कमलनाथ की वन टू वन भी होगी। टिकट की पहली सूची घोषित होने के बाद उठ रहे स्थानीय विरोध को शांत करने के लिए भी रणनीति तैयार की जाएगी। कमलनाथ असंतुष्ट और नाराज नेताओं से भी मुलाकात करेंगे। जिला पंचायत भिंड के अध्यक्ष रामनारायण हिंडोलिया ने भी अपने विरोध जताने की माफी मांग ली है। उन्होंने पत्र जारी कर कहा है कि वे कांग्रेस के उम्मीदवार को जिताने के लिए काम करेंगे और दूसरी पार्टी में नहीं जाएंगे।
- सिंधिया को देंगे जवाब
कार्यकर्ता सम्मेलन में कमलनाथ के निशाने पर भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया रहेंगे। सिंधिया और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जोड़ी ने अपने प्रचार के दौरान जो भी आरोप लगाए हैं उन पर कमलनाथ पलटवार करेंगे। कार्यकर्ताओं से भी सिंधिया के खिलाफ आक्रामक रहकर प्रचार करने की बात कही जाएगी।

Kamal Nath
anil chaudhary Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned