शिवराज बोले दिग्विजय सिंह को हमने नहीं कांग्रेस ने दिया दर्द

शिवराज बोले दिग्विजय सिंह को हमने नहीं कांग्रेस ने दिया दर्द

Harish Divekar | Publish: Oct, 16 2018 06:45:51 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

राहुल अपने साथ दिग्गि को मुरैना और जौरा के दौरे पर ले गए

दिग्विजय सिंह के वीडियो वायरल होने के बाद सियासी घमासान मचा हुआ है।

मौके की नजाकत का फायदा उठाते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दिग्विजय सिंह को दर्द हमने नहीं कांग्रेस ने दिया है।

उनके झंडे, बैनर और पोस्टर नहीं लगने दे रहे। ना ही उन्हें सभा में भाषण देने दिया जा रहा है।
भाजपा के इस वार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गंभीरता से लेते हुए आनन—फानन में दिग्विजय सिंह को तलब किया।

राहुल अपने साथ दिग्गि को मुरैना और जौरा के दौरे पर भी ले गए, जिससे कांग्रेस में किसी तरह की फुट का संदेश न जाए।

कांग्रेस की कलह हुई उजागर
15 साल बाद मध्यप्रदेश की सत्ता से शिवराज सिंह चौहान को बेदखल करने का सपना देख रही कांग्रेस की अंदरूनी कलहबाजी मीडिया के सामने आ गई है। मीडिया में लंबे समय से ऐसी खबरे आ रही हैं कि कांग्रेस एमपी में कई खेमों में बंटी हुई है। सीएम पद को लेकर भी यहां कई दावेदार हैं। कांग्रेस के सीनियर नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्वजिय सिंह को इस बार कांग्रेस कोई खास तवज्जो नहीं दे रही है। यही कारण है कि उनका दर्द छलक उठा और उन्हें कहना पड़ा कि उनके भाषण देने से पार्टी के वोट कटते हैं। दिग्विजय सिंह का कहना है कि उनके भाषणों से कांग्रेस को नुकसान होता है इसलिए वह कोई रैली या जनसभा नहीं करते।

 

इलेक्शन कैंपेन के दौरान भोपाल में दिग्विजय सिंह ने कहा, जिसको टिकट मिले, चाहे दुश्मन को मिले, जिताओ, मेरा काम केवल एक है, कोई प्रचार नहीं, कोई भाषण नहीं. मेरे भाषण से तो कांग्रेस के वोट कटते हैं. इसलिए मैं कहीं नहीं जाता।

इंटरनेट पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ, चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ ही समन्वय समिति के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह भी सबसे ज्यादा सर्च किए जाने वाले नेताओं में शामिल हैं लेकिन इस बार वह कांग्रेस की रैलियों और जनसभाओं से गायब हैं।

 

 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जब औपचारिक तौर पर भोपाल से पार्टी के लिए प्रचार अभियान शुरू किया था और रोड शो किया था तो भेल दशहरा मैदान में रैली स्थल पर दिग्विजय सिंह के कटआउट नहीं दिखाई दिए। पूरे शहर में जहां तमाम कांग्रेसी नेताओं की तस्वीरें और होर्डिंग दिखाई दे रहीं थीं, वहीं दिग्विजय सिंह की होर्डिंग नजर ना आने से पार्टी की आपसी गुटबाजी भी साफ नजर आई। हालांकि इसके लिए बाद में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने उनसे माफी मांगी थी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned