मोदी-शाह के पैर धोकर पीएं शिवराज, हमें नहीं ऐतराज : जीतू

मोदी-शाह के पैर धोकर पीएं शिवराज, हमें नहीं ऐतराज : जीतू
kamalnath news

Anil Chaudhary | Updated: 14 Aug 2019, 05:02:03 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

- उच्च शिक्षा मंत्री के बयान से सियासी बवाल

भोपाल. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह की पूजा करने वाले बयान पर उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने तीखी प्रतिक्रिया दी। इसके बाद सियासी बवाल मच गया।
जीतू ने शिवराज सिंह को मोदी-शाह का चापलूस बताया है। जीतू ने ट्वीट किया कि आप भाजपा में अपनी साख खत्म होने के डर से मोदी-शाह की पूजा तो क्या उनके पैर धोकर पीयो तो भी हमें ऐतराज नहीं है, लेकिन देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू पर बार-बार टिप्पणी आपके मानसिक दीवालियापन को दिखा रहा है। उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा कि मध्यप्रदेश की सत्ता से बेदखल होने के बाद अपना 'अस्तित्वÓ बचाने के लिए मोदी-शाह की चापलूसी में मशगूल शिवराज सिंह चौहान प्रदेश की मर्यादा का खयाल रखें। आप 13 साल प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। प्रदेश की जनता को एहसास था कि मुख्यमंत्री चुना, लेकिन क्या पता था कि चापलूस चुना।
मुख्यमंत्री कमलनाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट किया कि कभी आडवाणी-अटल की पूजा करने वाले प्रदेश बदर शिवराज ने अब मोदी-शाह की पूजा कर रहे हैं।

 

- शिवराज का जवाब
भाजपा नेताओं ने जीतू पटवारी के बयान पर पलटवार किया है। शिवराज ने ट्वीट किया कि मैं किसी परिवार का ग़ुलाम नहीं हूं, सिर्फ भारत माता के चरणों की धूल हूं। इसकी सेवा करके अपने जीवन को सफल, सार्थक और धन्य मानता हूं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस नेताओं की भाषा की मर्यादा गिरती जा रही है, जिससे साबित होता है कि कांग्रेस में सब कुछ ठीक नहीं है। वहीं, पूर्व मंत्री रामपाल सिंह ने कहा कि जीतू का बयान बेहद शर्मनाक है। वे खुद गांधी परिवार का चरणामृत पीते हैं।

- शिवराज बौखला क्यों रहे हैं, समझ से परे- कमलनाथ
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को एक निजी कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेहरु पर दिए गए बयानों पर कहा कि शिवराज सिंह इन दिनों बौखला गए हैं। वे 13 साल मुख्यमंत्री रहे हैं। अब जो शब्द उनके मुंह से निकल रहे हैं उनको शोभा नहीं देते हैं, मुझे उनके इस तरह के बयानों से दु:ख हुआ है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में धारा 370 हटाने पर कहा कि नेहरु ने उसी समय कह दिया था कि ये अस्थाई व्यवस्था है। अब ये व्यवस्था कब हटना थी यह कश्मीर के हालात पर निर्भर करता है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned