तिरुपति में दर्शन करने पहुंचे शिवराज, चीन मुद्दे पर बोले- यह 1962 का भारत नहीं है

परिवार के साथ तिरुपति में भगवान बालाजी के दर्शन करने पहुंचे शिवराज, अगले चार दिनों में हो सकता है शपथ ग्रहण समारोह...।

By: Manish Gite

Published: 26 Jun 2020, 06:08 PM IST

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को कहा कि चीन ने हमारी सीमाओं की ओर बढ़ने का प्रयास किया तो हमारे जवानों ने उनके सैनिकों की गर्दन तोड़ कर रख दी। चौहान ने कहा कि यह 1962 का भारत नहीं है। अब देश मजबूत हाथों में है।

 

मुख्यमंत्री चौहान तिरुपति में भगवान के दर्शन करने के बाद मीडिया के सवालों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि हम एक तरफ कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। वो भी एक तरफ चीन है तो एक तरफ पाकिस्तान। दोनों तरफ से तनाव है। लेकिन, अब हम मोदीजी के नेतृत्व में आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने दुनिया के मुकाबले भारत में कोरोना के संकट को काफी नियंत्रित कर दिया है। चौहान ने कहा कि चीन ने हमारी सीमाओं की तरफ बढ़ने की कोशिश की, लेकिन हमारे जवानों ने उनके सैनिकों की गर्दन तोड़ दी।

 

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपने परिवार के साथ गुरुवार को हैदराबाद के रास्ते तिरुपति गए थे। उन्होंने शुक्रवार को भगवान के दर्शन किए। वे मंदिर की परंपरा के मुताबिक वस्त्र पहनकर दर्शन करने पहुंचे थे।

 

30 जून तक हो सकता है शपथ ग्रहण समारोह

शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार (shivraj cabinet expansion) अगले चार दिनों में हो सकता है। नए चेहरों के नाम पहले ही तय हो चुके हैं। तिरुपति से मुख्यमंत्री शनिवार को भोपाल पहुंच जाएंगे। इसके बाद वे दिल्ली जाएंगे जहां नए मंत्रियों की सूची को फाइनल किया जाएगा। माना जा रहा है कि नए मंत्रियों का शपथ ग्रहण समारोह भी देवशयनी एकादशी से पहले यानी 30 जून तक हो सकता है। क्योंकि 1 जुलाई से देवशयनी होने के कारण शुभकार्य नहीं हो पाएंगे। इस दृष्टि से अगले चार दिन मध्यप्रदेश की राजनीति में उथल-पुथल भरे हो सकते हैं।

 

Must Read

मध्यप्रदेश / मंत्रिमंडल में आएंगे 25 नए मंत्री, इन्हें मिल सकता है मंत्री पद, देखें लिस्ट
पूर्व मंत्री ने अपने बयान पर माफी मांगी, बेटियों के लिए बोली थी आपत्तिजनक बात

 

फाइनल है मंत्रियों की सूची
प्रदेश स्तर पर अब संभावित मंत्रियों की सूची लगभग फाइनल हो गई है। शनिवार को सीएम के वापसी के बाद दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह (amit shah), भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा (jp nadda ) और राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) के साथ सूची को फाइनल करवाने जाएंगे।

 

कार्यवाहक राज्यपाल दिलाएंगे शपथ
मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन लखनऊ के अस्पताल में भर्ती हैं। हालांकि उनके स्वास्थ्य में थोड़ा सुधार हुआ है, लेकिन फिर भी वे इतनी जल्दी स्वस्थ होकर वापस काम पर नहीं पहुंच सकते हैं। वे अब भी आईसीयू में भर्ती हैं और विशेषज्ञों की निगरानी में हैं। ऐसी स्थिति में मध्यप्रदेश में नए शपथ ग्रहण को टाला नहीं जा सकता है, इसलिए अन्य प्रदेशों के राज्यपाल में से किसी एक को मध्यप्रदेश राज्य का अतिरिक्त प्रभार देकर शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया जा सकता है।

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned