scriptशिवराजसिंह बोले- मुझे थप्पड़ जड़े, हाथ पैरों में इतने डंडे मारे कि आज भी याद है | Shivraj Singh Lathi charge Shivraj Singh Emergency MISA Bandi | Patrika News
भोपाल

शिवराजसिंह बोले- मुझे थप्पड़ जड़े, हाथ पैरों में इतने डंडे मारे कि आज भी याद है

Shivraj Singh शिवराजसिंह चौहान की ये चोेटें बहुत गहरी हैं।

भोपालJun 26, 2024 / 09:33 pm

deepak deewan

Shivraj Singh Lathi charge Shivraj Singh Emergency MISA Bandi

Shivraj Singh Lathi charge Shivraj Singh Emergency MISA Bandi

Shivraj Singh Lathi charge Shivraj Singh Emergency MISA Bandi – शिवराजसिंह चौहान की ये चोेटें बहुत गहरी हैं। करीब 50 साल पहले के ये जख्म आज भी ताजा हैं। आपातकाल की 49वीं बरसी पर दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने इस दर्द को बयां किया। इस इंटरनेशनल संवाद कार्यक्रम में केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराजसिंह चौहान ने आपातकाल के दौरान की गई ज्यादतियों का जिक्र करते हुए खुद पर हुए जुल्म की भी कहानी सुनाई।
शिवराजसिंह चौहान ने बताया कि वे उस समय 11वीं क्लास में थे। आपातकाल का विरोध करने पर पुलिस ने खूब मारा।
मुझे थप्पड़ जड़े और हाथ पैरों में तो इतने डंडे मारे कि आज भी रह रहकर दर्द उठने लगता है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि
जब जब बादल छाते हैं तब तब असहनीय दर्द होता है।
यह भी पढ़ें : एमपी में लाड़ली बहनों को 3 हजार देने कांग्रेस का बड़ा त्याग, वेतन भत्ता छोड़ेगे विधायक

देश में 1975 में आपातकाल लगाया गया था। आपातकाल की बरसी पर भोपाल में मुख्यमंत्री आवास पर लोकतंत्र सेनानियों का प्रादेशिक सम्मेलन हुआ जहां सीएम मोहन यादव ने मीसाबंदियों के लिए अनेक घोषणाएं कीं। मध्यप्रदेश में मीसाबंदियों को एयर एंबुलेंस की सुविधा देने, टोल नाकों पर छूट देने की घोषणा की।
एमपी में बड़ी कार्रवाई, कई पटवारियों को किया निलंबित, अफसरों पर भी गिरी गाज

CM मोहन यादव ने आपातकाल के संघर्ष को प्रदेश के स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने की भी बात कही। सीएम ने कहा कि प्रदेश में चलने वाली एयर टैक्सी में लोकतंत्र सेनानियों को किराए में 25 % छूट दी जाएगी।
स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के समान सभी मीसाबंदियों को ताम्रपत्र भी दिया जाएगा। इस मौके पर प्रदेश भर से आए 750 मीसाबंदी और उनके परिजनों पर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने फूल बरसाए।

Hindi News/ Bhopal / शिवराजसिंह बोले- मुझे थप्पड़ जड़े, हाथ पैरों में इतने डंडे मारे कि आज भी याद है

ट्रेंडिंग वीडियो