फिसल रहीं गाडिय़ां, हो रहे सड़क हादसे का शिकार

अन्ना नगर से कस्तूरबा तक की जर्जर हो चुकी सड़क

भोपाल. भेल टानशिप के अन्ना नगर से कस्तूरबा अस्पताल की ओर जाने वाली सड़क लम्बे अर्से से बदहाल हो चुकीं है। हाल ही में भेल नगर प्रशासन द्वारा भेल टाउनशिप की सड़कों की मरम्मत कराई गई है, इसके बाद भी यह सड़क और यहां से आवागमन करने वाले लोग सुधार की आस लगाए बैठे हैं। भेल नगर प्रशासन द्वारा भी इसकी सुध नहीं ली गई, जबकि इस मार्ग से भेल कर्मचारियों सहित बड़ी संख्या में लोगों की आवाजाही बनी रहती है।

कस्तूरबा अस्पताल में पहुंचने वाले भेल में कार्यरत और रिडायर्ड कर्मचारियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसी मार्ग पर भेल की जवाहर स्कूल और महिला पॉलीटेक्निक कॉलेज के साथ हबीबगंज रेलवे स्टेशन है, जहां रोजाना बड़ी संख्या में लोग आते-जाते हैं, फिर भी भेल प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है।

एम्बुलेंस निकलना तक मुश्किल
बदहाल हो चुकी इस सड़क से मरीजों को कस्तूरबा अस्पताल ले आने और ले जाने वाली एम्बुलेंस भी रेंगते हुए निकलती है। कई बार ड्राइवर द्वारा ध्यान नहीं दिए जाने के कारण वाहन गड्ढे में कूद जाता है, जिससे मरीजों को भारी परेशानी होती है। कुछ मरीजों के परिजनों ने बताया कि हालत गंभीर होने पर जल्दबाजी में अस्पताल लाने या फिर यहां से दूसरे अस्पताल ले जाने में भारी परेशानी होती है।

फिसलकर गिर जाते हैं स्कूली बच्चे
इसी मार्ग पर भेल का जवाहर स्कूल है। स्कूल छूटते ही बड़ी संख्या में बच्चे एक साथ निकलते हैं, ऐसे मेें इस सड़क पर भारी भीड़ हो जाती है। स्कूल के सामने ही बड़े-बड़े गड्ढे होने से बच्चे वाहन लेकर इसमें गिरकर घायल तक हो जाते हैं।

भेल द्वारा कराया जा रहा पेंचवर्क
बता दें कि भेल टाउनशिप की बदहाल हो चुकी सड़कों पर भेल नगर प्रशासन के सिलिव विभाग द्वारा पेंचवर्क कराया जा रहा है। कई सड़कों का पेचवर्क कराया भी जा चुका है, लेकिन अब तब इस ओर ध्यान नहीं दिया गया, जबकि इस मार्ग से भेल कर्मचारी कारखाने के साथ ही कस्तूरबा अस्पताल और हबीबगंज रेलवे स्टेशन सहित यहां लगने वाली हाट-बाजार में पहुंचते हैं। इसके बाद भी अब तक इस सड़क की मरम्मत नहीं कराई गई।



अन्ना नगर से कस्तूरबा अस्पताल की ओर आने वाली सड़क पूरी तरह बदहाल हो चुकी है। जगह-जगह हो चुके बड़े-बड़े गड्ढों से अस्पताल जाने वाले मरीजों को भारी परेशानी होती है। इसके बाद भी जिम्मेदारों द्वारा इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।
चिमनलाल आर्या, कस्तूरबा मार्केट, हबीबगंज

अन्ना नगर से कस्तूरबा अस्पताल की ओर आने वाली सड़क पर जवाहर स्कूल, सत्यसाईं महिला पॉलीटेक्निक कॉलेज, धनवंतरि पार्क , कस्तूरबा अस्पताल जैसे संस्थान हैं। इनमें रोजाना हजारों की संख्या में बच्चे और लोग पहुंचते हैं, जिन्हें सड़क जर्जर होने से आवागमन में परेशानी होती है।
 राघवेन्द्र गौतम, अन्ना नगर
इस मार्ग से रोजाना हजारों की संख्या में वाहन चालकों सहित लोगों की आवाजाही बनी रहती है। जर्जर हो चुकी सड़क से वाहन चालकों को निकलना मुश्किल होता है। यहां हबीबगंज रेलवे स्टेशन, आईएसबीटी आदि होने के कारण दिन-रात वाहनों सहित लोगों की आवाजाही बनी रहती है।
उल्ला सोनकर, अन्ना नगर

Rohit verma Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned