नहरों किनारे छोटे तालाब, मछलियों के लिए बनेंगे कोल्ड-स्टोरेज

नहरों किनारे छोटे तालाब, मछलियों के लिए बनेंगे कोल्ड-स्टोरेज

 

भोपाल। कमलनाथ सरकार प्रदेश में मछली उत्पादन बढ़ाने के लिए बड़ा प्रयोग करेगी। इसके तहत नदियों व नहरों किनारे छोटे तालाब बनाए जाएंगे। इसके अलावा फिश फूड प्रोसेसिंग इकाईयों और मछलियों के लिए बड़े शहरों में निजी सेक्टर की मदद से कोल्ड-स्टोरेज की स्थापना भी की जाएगी, ताकि मछली उत्पादन से लेकर बिक्री तक की पूरी चैन तैयार हो।


मत्स्य पालन मंत्री लाखन सिंह यादव ने इस नई कार्ययोजना का एेलान किया है। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत मछली उत्पादन से लेकर बिक्री तक नया रोजगार भी पैदा होगा। वर्तमान में फिश प्रोसेसिंग की इकाईयाँ अभी तक कोस्टल स्टेट में स्थापित की जाती है, लेकिन अब फिश-फिले के प्रोसेसिंग यूनिट की संभावना है।


अभी इस तरह हो रहा काम-
मत्स्य बीज संवर्धन के लिए जबलपुर के बरगी जलाशय की नहर के किनारे वहदन ग्राम में 2 हेक्टेयर क्षेत्र में नर्सरी तैयार की गई है। इन नर्सरियों में 4 करोड़ मत्स्य स्पान एवं 35 स्टे फ्राई उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है। इसी प्रकार सिवनी के संजय नगर जलाशय (भीमगढ़) की नहर के किनारे 2 हेक्टेयर क्षेत्र में नर्सरी बनायी गई है।

इस नर्सरी में जलाशय के संचयन में मत्स्य बीज का उपयोग हो रहा है। इसी प्रकार शिवपुरी के अटल सागर जलाशय की नहर के पास एक हेक्टेयर क्षेत्र में सम्वर्धन क्षेत्र निर्मित किया गया है। इसमें मत्स्य बीज उत्पादित कर उनका संचय किया जा रहा है।

Show More
जीतेन्द्र चौरसिया Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned