scriptइतनी गरीबी कि किताबें खरीदने के भी नहीं थे पैसे, बड़े ओहदोंं पर पहुंच अब औरों की मदद कर रहीं बहनें | So much poverty that there was no money to buy books | Patrika News

इतनी गरीबी कि किताबें खरीदने के भी नहीं थे पैसे, बड़े ओहदोंं पर पहुंच अब औरों की मदद कर रहीं बहनें

कमियों से जूझी, परिवार को संभाला और समाज में बनाया मुकाम

 

भोपाल

Published: November 23, 2021 11:27:10 am

akansha.jpg

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Group Sites

Top Categories

Trending Topics

Trending Stories

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.