वायरलेस पर गूंजा...कौन सा वीवीआइपी है, जो रात में भी चैन नहीं ले रहा है

वायरलेस पर गूंजा...कौन सा वीवीआइपी है, जो रात में भी चैन नहीं ले रहा है

KRISHNAKANT SHUKLA | Publish: May, 17 2019 09:56:20 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

अनुशासनहीनता: टीटी नगर थाने के दो सिपाहियों का कारनामा, लाइन अटैच

भोपाल. टीटी नगर थाना क्षेत्र में बुधवार रात साढ़े दस बजे वीवीआइपी का काफिला गुजरना था। वायरलेस पर जानकारी दी गई। इसी दरमियान टीटीनगर थाने में पदस्थ सिपाही राजेश पटेल और गंगाराम ने अभ्रद भाषा का उपयोग किया। उन्हें इसका ध्यान ही नहीं रहा कि वायरलेस सेट ऑन है।

उनकी टिप्पणी आला अधिकारियों ने भी सुनी। बताया जा रहा है कि इन्होंने कहा कि ‘कौन सा वीआइपी है, जो इतनी रात में चैन नहीं ले रहा। ड्यूटी खत्म होने जा रही है, अब वीआइपी के लिए सडक़ का ट्रैफिक रोका जाए।’ इस पर डीआइजी इरशाद वली ने दोनों को लाइन अटैच कर दिया। वली का कहना है कि इनकी सर्विस बुक में भी इसे दर्ज किया जाएगा।

वीवीआइपी को जाना था शादी समारोह में

दरअसल, बुधवार रात साढ़े दस बजे रातीबड़ क्षेत्र में वीवीआइपी का मूवमेंट था। उन्हें यहां एक शादी समारोह में शामिल होने जाना था। इसको लेकर वायरलेस सेट पर मैसेज चला, जिसमें पुलिसकर्मियों को निर्देशित किया गया कि रूट पर ट्रैफिक और प्वॉइंट चेक किए जाएं। टीटी नगर से रातीबड़ के बीच ड्यूटी पर मौजूद पुलिसकर्मियों को वायरलेस पर अपनी लोकेशन बताने को भी कहा गया था।

इधर, गुफा से आ रही हैं तेंदुआ शावकों की आवाजें, लगाए कैमरे

मानव संग्रहालय के पिछले हिस्से में गुफा से तेंदुआ शावकों की आवाज रेकॉर्ड की गई है। वन विभाग ने तेंदुए को पकडऩे लगाए पिंजरे हटवाकर ट्रैप कैमरे लगवा दिए हैं। एसएएफ फायरिंग रेंज और मानव संग्रहालय के पिछले हिस्से के बीच एक प्राकृतिक गुफा है, जिसमें शैल चित्र हैं। मई के पहले सप्ताह में यहां तेंदुए का मूवमेंट देखा गया। तेंदुए ने यहां सियार का शिकार भी किया था।

मानव संग्रहालय के पीछे गुफा में तेंदुए के शावक होने से इंकार नहीं किया जा सकता। यहां ट्रैप कैमरे लगाए गए हैं। - सुनील भारद्वाज, एसडीओ, वन विभाग

संग्रहालय में नोटिस चिपकाए, किया अलर्ट

वन विभाग ने इस गुफा के आसपास ट्रैप कैमरे लगवाने के साथ ही मानव संग्रहालय में नोटिस चस्पा किया है। इसमें तेंदुए की उपस्थिति को लेकर चेतावनी दी गई है। विभागीय सूत्रों का कहना है कि मादा तेंदुए ने हाल ही में शावकों को जन्म दिया है और उसका मूवमेंट भी यहां है। हालांकि गुफा के इर्द-गिर्द पर्यटकों के जाने पर पहले से रोक है, लेकिन अब निगरानी भी की जा रही है।

 

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned