scriptSpecial temple, devotees come in this special position for worship | खास है ये मंदिर, पूजा के लिए इस विशेष स्थिति में आते हैं भक्त | Patrika News

खास है ये मंदिर, पूजा के लिए इस विशेष स्थिति में आते हैं भक्त

Special temple, devotees come in this special position for worship

भोपाल

Published: November 17, 2021 12:55:29 pm

भोपाल. मलयाली समाज के मकरविल्लकु महोत्सव की शुरुआत मंगलवार से हो गई। यह महोत्सव मकर संक्रांति तक चलेगा। 41 दिन तक चलने वाले इस पूजन महोत्सव के अंतर्गत अयप्पा मंदिरों में विशेष पूजा अर्चना, भागवत पारायण सहित अन्य आयोजन होंगे। इसी प्रकार 12 और 41वें दिन दीप आराधना होगी और मंदिरों को दीपमालाओं से सजाया जाएगा।
mandir.jpg
सात्विक स्थिति मेें ही पूजा—अर्चना
मंडलम मकरविल्लकु के पहले दिन शहर के अयप्पा मंदिरों में फूलों से आकर्षक रंगोली और दीपमालाएं सजाई गई। इस दौरान पूरे मंदिर परिसर में दीपक जलाए गए और श्रद्धालुओं ने कतारबद्ध होकर पूजा अर्चना की और दर्शन किए। खास बात यह है कि इस पर्व में लोग सात्विक रहकर ही पूजा अर्चना करते हैं.

मकर संक्रांति तक चलता है पर्व
मलयाली समाज का यह प्रमुख पर्व होता है। 16 अथवा 17 नवम्बर से शुरू होकर यह उत्सव मकर संक्रांति तक चलता है। दोनों समय स्नान, अय्यप्पा स्वामी की पूजा की जाती है। कई लोग उपवास भी रखते हैं, कई श्रद्धालु सात दिन, कई 12 दिन तो कई 41 दिन का उपवास रखते हैं. केरल के प्रसिद्ध तीर्थ सबरीमाला के दर्शन के लिए पहुंचते हैं।
mandir_maa.jpg

नारायण मिशन में महागुरु पूजा और आराधना
नारायण मिशन गोविंदपुरा में मंडलम् मकर वर्णक महोत्सव मनाया गया। 41 दिनों तक चलने वाले इस महोत्सव के तहत महागुरु पूजा की गई, इसके बाद विशेष आराधना पूजा भी की गई । शासन द्वारा कोविड-19 के मद्देनजर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मंडलम पूजा के पहले दिन लगभग 550 से अधिक भक्तों ने अपनी नक्षत्र राशि अनुसार भजन-कीर्तन किया।

Must Read- एक दर्जन लोगों को डसा, मौतों और नाग-नागिन के जोड़े से पसरी दहशत

पिपलानी मंदिर में हुई आराधना
पिपलानी भेल स्थित अय्यप्पा मंदिर में मकरविल्लकु उत्सव के पहले दिन सुबह अष्ट दृव्यों से भगवान अयप्पा का अभिषेक किया गया। इसके बाद महागणपति होम, अन्नदानम कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसके बाद शाम को मंदिर को दीपों से सजाया गया। विशेष रंगोली से मंदिर को सजाया गया। इस दौरान आरती, कर्पूरज्योति, पुष्पाभिषेक सहित अनेक कार्यक्रम हुए। इस मौके पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

School Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीAstro Tips : इन राशि वालों के रिश्ते ज्यादा कामयाब नहीं हो पाते, जानें ज्योतिष की नजर में क्या है इसका कारण?Sharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

दिल्ली में हटा वीकेंड कर्फ्यू, बाजारों से ऑड-ईवन भी हुआ खत्म, जानिए और किन प्रतिबंधों में दी गई छूटराहुल गांधी ने फॉलोवर्स सीमित होने पर Twitter पर लगाया सरकार के दबाव में काम करने का आरोप, जानिए क्या मिला जवाबकेरल और कर्नाटक में 50 हजार तक सामने आ रहे नए केस, जानिए अन्य राज्यों का हालटाटा ग्रुप का हो जाएगा अब एयर इंडिया, कर्मचारियों को क्या होगा फायदा और नुकसान?झारखंड में नक्सलियों ने ब्लास्ट कर उड़ाया रेलवे ट्रैक, राजधानी एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनों का रूट बदला8 साल की बच्ची से रेप के आरोप में मस्जिद के इमाम गिरफ्तार, पढ़ने के लिए मस्जिद जाती थी लड़कीUttarakhand Assembly Elections 2022: हरीश रावत की सीट बदली, देखिए Congress की नई लिस्टCG की बेटी अंकिता ने किया लद्दाख की 6080 मीटर सबसे ऊंची बर्फीली चोटी फतह, माइनस 39 डिग्री टेम्प्रेचर में भी हौसला रहा बुलंद
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.