तेज हुई संक्रमण की रफ्तार, पॉजिटिविटी रेट भी 5 फीसदी से ज्यादा, अस्पतालों में बेड बढ़ाने के निर्देश

हर जिले में ऑक्सीजन बैड्स और आईसीयू बैड्स की क्षमता बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं।

By: Pawan Tiwari

Published: 17 Sep 2020, 07:33 AM IST

भोपाल. मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सभी जिलों में फीवर क्लीनिक्स को और प्रभावी बनाए जाने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मोबाइल फीवर क्लीनिक्स भी चलाए जाएं। हर जिले में ऑक्सीजन बैड्स और आईसीयू बैड्स की क्षमता बढ़ाई जाए।

भोपाल कलेक्टर ने बताया कि 'कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर' के माध्यम से 'होम आइसोलेशन' वाले मरीजों की निरंतर मॉनीटरिंग की जा रही है। हर जिले के अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए बैड्स की क्षमता बढ़ाई जाए। भोपाल जिले की समीक्षा में बताया गया कि यहां वर्तमान में 1488 ऑक्सीजन एवं आई.सी.यू. बैड्स हैं, जिन्हें बढ़ाकर 2201 किया जा रहा है।

प्रतिदिन 25 हजार टैस्ट
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि हर जिले में कोरोना की टैस्टिंग बढ़ाई जाए। मुख्य सचिव बैंस ने बताया कि प्रतिदिन 25 हजार टेस्ट करने का लक्ष्य रखा गया है। कोरोना मरीजों की जल्दी पहचान कर उनका तुरंत उपचार किए जाकर शत-प्रतिशत मरीजों को स्वस्थ किया जा सकता है।

प्रदेश की मृत्यु दर अब 1.93 प्रतिशत
प्रदेश में कोरोना के बड़ी संख्या में मरीज ठीक होकर घर जा रहे हैं। प्रदेश की रिकवरी दर 74.9 प्रतिशत है तथा मृत्यु दर 1.93 प्रतिशत है। वहीं प्रति दस लाख हमारी टैस्टिंग 21 हजार 117 तथा पॉजिटिविटी रेट 5.50 प्रतिशत है।

एक्टिव मरीजों में 13वें और पॉजीटिव मरीजों में 14वें स्थान पर
अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि तुलनात्मक रूप से देश में एक्टिव मरीजों की संख्या के हिसाब से मध्यप्रदेश 13वें तथा पॉजीटिव मरीजों की संख्या के हिसाब से 14वें स्थान पर है। मध्यप्रदेश में अबतक 95515 संक्रमित सामने आ चुके हैं। मध्यप्रदेश में संक्रमण की दर 16 प्रतिशत के पार हो गई है।

coronavirus
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned