भूमिका पर हुआ संदेह, रोक दीं नई ज्वाइनिंग...जानिए पूरा मामला

भूमिका पर हुआ संदेह, रोक दीं नई ज्वाइनिंग...जानिए पूरा मामला

Lali Kosta | Updated: 02 Nov 2015, 09:55:00 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

बीएसएनएल : अनुकंपा नियुक्ति पर ब्रेक, जांच शुरू होने से अधिकारियों, कर्मचारियों में हड़कंप, लेन-देन के आरोप के बाद रुकी 33 कर्मचारियों की ज्वाइनिंग

(फोटो: पत्रिका में मामले पर पूर्व प्रकाशित खबर)
जबलपुर। बीएसएनएल में अनुकंपा नियुक्ति मामले में पैसों के बंदरबाट की जांच शुरू होने से हड़कंप की स्थिति है। कर्मचारी नेताओं से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों के चेहरे पर हवाइयां उड़ रही हैं। बीएसएनएल मुख्यालय द्वारा जिले के 33 कर्मचारियों की अनुकंपा नियुक्ति पर रोक लगाने से अफरातफरी मच गई है।
भूमिका पर संदेह
सूत्रों के अनुसार अनुकंपा नियुक्ति देने के नाम पर कर्मचारियों से 1.5 लाख से 2.5 लाख रुपए तक लिए गए। इस लेन-देन में यूनियन के कुछ कथित कर्मचारी नेताओं एवं अधिकारियों की भूमिका पर संदेह है। इसकी शिकायत पीडि़त कर्मचारी द्वारा स्थानीय अधिकारियों से की गई थी, लेकिन मामले को दबा दिया गया। जब बात मुख्यालय पहुंची तो पूरे मामले की जांच कराने का निर्णय लिया गया।
जारी होने वाले थे आदेश
इस निर्णय के बाद जबलपुर जिले से 33 कर्मचारियों को अनुकंपा नियुक्ति पर ब्रेक लग गया है। इन कर्मचारियों को बीएसएनएल प्रबंधन द्वारा ज्वाइनिंग आदेश जारी किए जाने वाले थे। अब मामले की उच्च स्तरीय कमेटी की जांच के बाद ही इन कर्मचारियों की नियुक्ति की जाएगी।
हो सकता है तबादला
सूत्रों के अनुसार मामले में संदिग्ध भूमिका वाले कर्मचारी एवं अधिकारियों पर तबादले की गाज गिर सकती है। बीएसएनएल की एक यूनियन के नेताओं की भी इस मामले में भूमिका संदिग्ध लग रही है। प्रबंधन के साथ मिलीभगत कर अनुकंपा नियुक्ति के नाम पर लाखों रुपए अंदर किए गए। 
Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned