10 साल पहले 24 फरवरी को ही की थी हत्या, 24 फरवरी को ही हुआ गिरफ्तार और बरी, अब 24 फरवरी को हुआ कत्ल

भोपाल में गला रेतकर हत्या मामले में मृतक का 24 फरवरी से जुड़ा अजब संयोग, कालगर्ल को लेकर हुआ था दोनो बदमाशों के बीच विवाद, बीच सड़क पर गला रेतकर कर दी थी हत्या।

By: Faiz

Published: 25 Feb 2021, 10:52 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के गौतम नगर थाना इलाके में हुई युवक की गला रेतकर हत्या मामले का कारण सामने आया है। बताया जा रहा है कि, शादाब नामी युवक की हत्या एक कॉलगर्ल को लेकर हुई है। इसके अलावा, 24 फरवरी को हुई युवक की हत्या को लेकर भी मृतक शादाब उर्फ जहरीला का एक अजब संयोग सामने आया है, जो महज एक संयोग है, लेकिन आपको जानकर हैरानी जरूर होगी। फिलहाल, हत्या का मुख्य आरोपी नदीम उर्फ बच्चा बुधवार गुरुवार की दरमियानी रात ही पुलिस गिरफ्त में आ गया था, जबकि एक अन्य आरोपी एक अन्य आरोपी फैजान को भी गुरुवार को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं, तीसरे आरोपी शान की तलाश जारी है।

 

पढ़ें ये खास खबर- राजधानी में Live Murder : बीच सड़क पर युवक का गला रेता, विचलित कर देंगी तस्वीरें

 

हत्या की वारदात CCTV में हुई कैद...

इस तरह दिया वारदात को अंजाम

जानकारी के अनुसार, शहर के बाणगंगा इलाके में रहने वाले मृतक शादाब उर्फ जहरीला पर भी शहर के कई इलाकों में हत्या समेत दो दर्जन से अधिक गंभीर मामले दर्ज हैं। बुधवार रात शादाब जहरीले ने अपने बदमाश साथियों नदीम उर्फ बच्चा, फैजान और शान के साथ पहले जमकर शराब पी। इसके बाद रात 12 बजे चारों गौतम नगर इलाके के पीजीबीटी कॉलेज क्षेत्र में पहुंचे। यहां किसी बात को लेकर शादाब ने नदीम को तमाचा मार दिया। इसी पर बात इतनी बिगड़ी कि, नदीम और उसके साथियों ने नशे में धुत शादाब पर चाकूओं से हमला बोल दिया। आरोपियों ने यहीं बस नहीं किया, बुरी तरह गोदने के बाद नदीम ने शदाब का गला रेंत दिया। वारदात को अंजाम देकर आरोपी मौके से भाग निकले, वहीं शादाब को अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।


मृतक के साथ था 24 फरवरी का अजब संयोग

ये मात्र एक संयोग ही है, जिसे मरने वाला शादाब भी मानता था। जिस बदमाश शादाब की हत्या 24 फरवरी की रात को हुई, उसका इसी तारीख से एक खास नाता भी था। शादाब को जानने वालों की मानें तो शादाब ने अपने साथियों के साथ मिलकर साल 2009 में 24 फरवरी को मुकेश यादव की हत्या की थी। करीब सालभर फरार रहने के बाद 24 फरवरी को ही गिरफ्तार किया गया था। यही नहीं, एक साल बाद इसी तारीख को ही उसे बरी कर दिया गया था। अतं में कुदरत ने उसकी मौत की तारीख भी 24 फरवरी ही मुकरर कर रखी थी।


कार्लगर्ल को तमाचा मारने पर हुआ दोस्तों में विवाद बना हत्या का कारण!

सूत्रों से तो यहां तक पता चला है कि, कटसी इलाके में गोरी (परिवर्तित नाम) देहव्यापार का धंधा करती है। जो कि नदीम बच्चा और शदाब दोनों के ही संपर्क में थी। गोरी को साथ ले जाने को लेकर शादाब और नदीम में पूर्व में अनबन हो गई थी, नदीम के साथ जाने पर शादाब ने गोरी के साथ मारपीट कर दी थी। जिसके बाद नदीम शदाब से खून्नस रखने लगा था। इसके अलावा, वारदात की रात शराब पीते समय नदीम के मोबाइल पर बार बार फोन भी आ रहे थे, जिसे लेकर शादाब को शक हुआ कि, कहीं नदीम उसकी मुखबिरी तो नहीं कर रहा, जिसपर विवाद शुरु हुआ, जो एक हत्या पर जाकर खत्म हुआ।


हत्या के 3 घंटे पहले भी किया था एक अन्य बदमाश पर हमला

शादाब की हत्या के पहले नदीम और उसके अन्य साथी फैजान ने टीला जमालपुरा इलाके में स्पर्श सोनी नामक एक अन्य बदमाश पर धारदार हथियार से जानलेवा हमला किया था। इस दौरान स्पर्श सोनी किसी तरह अपनी जान बचाकर भागने में कामयाब हुआ था। बता दें कि, स्पर्श सोनी के खिलाफ भी लूट समेत कई अपराध दर्ज हैं। इस हमले का कारण भी पुरानी रंजिश बताया जा रहा है।


डेढ़ महीने पहले ही जमानत पर छूटकर आया था शादाब

पुलिस जांच के मुताबिक, करीब तीन महीने पहले ही बदमाश शदाब ने हबीबगंज थाना इलाके के अन्य निगरानी बदमाश शप्पू शुटर के साथ मारपीट कर अड़ीबाजी की थी। इसी मामले में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। करीब महीने भर पहले ही शादाब को जमानत पर जेल से छोड़ा गया था।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned