18 महीने बाद पढ़ाई की 'आजादीÓ, दोस्तों को देख खिल उठे चेहरे

पहली से पांचवीं कक्षा तक के बच्चे पहुंचे स्कूल: पहले दिन 25 फीसदी बच्चे ही आए, सैनिटाइजेशन और सोशल डिस्टेंसिंग का रखा ध्यान

By: Rohit verma

Published: 21 Sep 2021, 01:29 AM IST

भोपाल. पिछले 18 महीनों से घरों में बंद नन्हे-मुन्ने बच्चे स्कूल पहुंचे तो उनके चेहरे की मुस्कुराहट देखते ही बन रही थी। यह नजारा सोमवार को शहर के कई स्कूलों में दिखाई दिया। प्राथमिक कक्षाओं का संचालन शुरू होने के बाद सोमवार को स्कूलों में बुलाए गए 50 फीसदी बच्चों में से भी लगभग आधे ही बच्चे पहुंचे। इस तरह 25 फीसदी उपस्थिति के साथ कक्षाएं शुरू हुईं।

सोमवार को स्कूल पहुंचे विद्यार्थियों में पहली कक्षा के विद्यार्थियों ने अप्रेल या जुलाई के बजाए सितम्बर के आखिर में स्कूलों में कदम रखा वहीं कई बच्चे ऐसे रहे जिन्होंने पिछले वर्ष पहली कक्षा में प्रवेश लिया था लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते स्कूल बंद होने के कारण वे पहली कक्षा में एक भी दिन स्कूल नहीं जा पाए। ऐसे बच्चे दूसरी कक्षा में पहुंचने के बाद पहली बार स्कूल पहुंचे। स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए एक बेंच पर एक विद्यार्थी को बैठाया गया। इसके पहले उनके हाथ सैनिटाइज कराए गए। बच्चों के स्कूल पहुंचने पर कई स्कूलों में शिक्षकों ने उनका तिलक लगाकर और फूलों से स्वागत किया।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने बिताया बच्चों के साथ समय
प्राथमिक कक्षाओं का संचालन शुरू होने के पहले दिन चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग तुलसी नगर स्थित नवीन कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला पहुंचे। यहां पर उन्होंने व्यवस्थाओं का जायजा लेने के साथ पहले दिन स्कूल पहुंचे नन्हें विद्यार्थियों का स्वागत किया। मंत्री सारंग ने विद्यालय में एक घंटे से अधिक समय बिताकर विद्यार्थियों से चर्चा की और विद्यालय की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने बच्चों को टॉफी, पेन, पेंसिल और पुस्तकें भी भेंट की।

विधायक ने कचौरी बनाकर खिलाई
भोपाल. स्कूल खुलने पर विधायक रामेश्वर शर्मा ने बच्चों को अनोखे अंदाज में बधाई दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के उपलक्ष्य में आयोजित सेवा समर्पण कार्यक्रम में पहुंचे विधायक शर्मा ने स्कूल से पढ़कर लौट रहे बच्चों को कचौरी खिलाकर बधाई दी। बच्चों को खुद अपने हाथों से कचौरी बनाकर खिलाई।

Rohit verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned