सुप्रीम कोर्ट की सख्त टिप्पणी, कोर्ट ने कहा- हम चाहते हैं मध्यप्रदेश में जल्द हो फ्लोर टेस्ट

मध्यप्रदेश की सियासत को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

By: Pawan Tiwari

Updated: 19 Mar 2020, 11:36 AM IST

नई दिल्ली/भोपाल. मध्यप्रदेश की सियासत को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने एक सख्त टिप्पणी की है। शिवराज सिंह चौहान की याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा- हम चाहते हैं कि खरीद-फरोख्त ना हो इसके लिए जल्द फ्लोर टेस्ट होना चाहिए। जस्टिस चंद्रचूड़ सिंह ने कहा कि हम चाहते हैं कि मध्यप्रदेश में जल्द फ्लोर टेस्ट हो। वहीं, दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट ने विधायकों के इस्तीफे को लेकर सवाल उठाए हैं।

कांग्रेस ने मांगा वक्त
वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में दलील देते हुए कहा कि इस पूरे मामले के लिए कम से कम दो सप्ताह का समय दिया जाना चाहिए। वकील अभिषेक मनु संघवी ने कहा कि बिना इस्तीफे पर फैसले लिए हुए फ्लोर टेस्ट का फैसला उचित नहीं होगा क्योंकि स्पीकर को विधायकों के इस्तीफे पर विचार करने के लिए कम से कम दो सप्ताह का समय लगेगा। वहीं, कोर्ट ने वकील अभिषेक मनु संघवी से पूछा कि अगर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्पीकर से बात करें तो क्या स्पीकर इस्तीफा स्वीकार करेंगे।

दलबदल कानून का जिक्र
कोर्ट में जिरह के दौरान अभिषेक मनु संघवी ने दल बदल कानून का भी जिक्र किया।

भोपाल में बैठकों का दौर
दूसरी तरफ भोपाल में बैठकों का दौर जारी है। सीएम हाउस के गेट पर आज सुरक्षा व्यवस्था का रिव्यू किया गया। वरिष्ठ अधिकारियों ने बैरीकेड चेंज करने का निर्णय लिया है। यहां सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष नजर रखी जाएगी। आशंका है कि बुधवार को कांग्रेस के प्रदर्शन को देखते हुए भाजपा भी आज यहां विरोध जताने के लिए धरना दे सकती है।


बुधवार को क्या हुआ था?
कांग्रेस के बागी विधायकों को लेकर सुप्रीम कोर्ट के जज डीवाय चंद्रचूड़ ने टिप्पणी करते हुए कहा था- एक चिंता जो हमारे पास है वह यह है कि स्पीकर ने इन 16 के लिए फैसला नहीं किया है। उनका कहना है कि 16 को बेंगलुरु में भेज दिया गया है। हम विधायकों को कार्यवाही में शामिल होने के लिए मजबूर नहीं कर सकते, लेकिन हम यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि वे अपना फैसला ले सकें। यह एक संवैधानिक न्यायालय का कर्तव्य है।

BJP Kamal Nath
Pawan Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned