नेपाल के पशुपतिनाथ मंदिर की कॉपी है यह टेम्पल, शिवरात्रि पर होती है भीड़

नेपाल के पशुपतिनाथ मंदिर की कॉपी है यह टेम्पल, शिवरात्रि पर होती है भीड़

Nitesh Tripathi | Publish: Jan, 29 2016 04:22:00 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

इस पर काफी विचार के बाद नेपाल के पशुपतिनाथ मंदिर की तर्ज पर बनाने का निर्णय लिया गया। 

भोपाल। गोविंदपुरा स्थित पशुपतिनाथ मंदिर का निर्माण नेपाल के पशुपतिनाथ मंदिर की कलाकृति के अनुरूप तैयार किया गया है। यह भेल के साथ ही भोपाल के लोगों की भी आस्था का केंद्र है। नेपाली समाज के अध्यक्ष लीलामणि पांडे ने बताया कि मंदिर की स्थापना 1979 में उस समय की गई थी जब भेल के गोविंदपुरा सेक्टर में सबसे अधिक आबादी थी। उस समय नेपाली समाज के लोग पूजा-अर्चना के लिए दूसरे क्षेत्रों में जाते करते थे। वह चाहते थे कि यहां भी उनका अपना मंदिर हो। इसी को ध्यान में रखते हुए उन्होंने समाज के लोगों के सामने मंदिर स्थापना का प्रस्ताव रखा, जिसे स्वीकार कर लिया गया। 

इस पर काफी विचार के बाद नेपाल के पशुपतिनाथ मंदिर की तर्ज पर बनाने का निर्णय लिया गया। इसके लिए नेपाल के कुछ कला विशेषज्ञों को मंदिर की डिजाइन और निर्माण करने का जिम्मा सौंपा गया। पांडे ने बताया कि परिसर में सूर्य मंदिर, मां भवानी, गणेश भगवान के अलावा अन्य देवी-देवताओं की प्रतिमाएं भी स्थापित हैं। यह मंदिर न सिर्फ नेपाली समाज, बल्कि अन्य समाज की अस्था का भी केंद्र है। 

शिवरात्रि पर लगता है मेला
समाज के अध्यक्ष लीलामणि पांडे बताते हैं कि तीन साल पहले धूमधाम से मंदिर के शिखर पर स्वर्ण कलश चढ़ाया गया है। इस दौरान शोभायात्रा भी निकाली गई। मंदिर में हर साल शिवरात्रि पर मेला लगता है। इसमें पूरे शहर के अलावा आसपास से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं। शिवरात्रि के मौके पर यहां आकर्षक एवं भव्य शिव बारात भी निकाली जाती है। 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned