scriptThe collector sent letters to the villagers with cleanliness, seeing t | कलेक्टर ने स्चछता तो लेकर गांव वासियों को भेजे पत्र, नेक काम देख पोस्ट ऑफिस ने वाहन भेज पहुंचाए | Patrika News

कलेक्टर ने स्चछता तो लेकर गांव वासियों को भेजे पत्र, नेक काम देख पोस्ट ऑफिस ने वाहन भेज पहुंचाए

locationभोपालPublished: Oct 26, 2021 10:13:48 pm

- पहला पत्र तरावली माता के यहां पहुंचा, हर दिन दो हजार पत्र जिला पंचायत से होंगे रवाना, 50 हजार पत्र भेजने का लक्ष

कलेक्टर ने स्चछता तो लेकर गांव वासियों को भेजे पत्र, नेक काम देख पोस्ट ऑफिस ने वाहन भेज पहुंचाए
कलेक्टर ने स्चछता तो लेकर गांव वासियों को भेजे पत्र, नेक काम देख पोस्ट ऑफिस ने वाहन भेज पहुंचाए
भोपाल. गांव में स्वच्छता और लोगों के स्वास्थ्य के प्रति अनूठी पहल करते हुए कलेक्टर अविनाश लवानिया ने ग्राम वासियों को पत्र लिखा है। जिसमें कोरोना काल के दौरान पैदा हुई जटिलता और उनके समाधान को लेकर लिखा गया है। इसमें बताया है कि स्वछता हमारी पीढ़ीगत विशेषता रही है। अपने घर, आंगन, चौपाल में स्वछता बनाए रखी है। इसके अलावा कबाड़ से कंचन और कई ऐसी बातें लिखी हैं जो ग्रामीणों को स्चछता से जोड़ती हैं। ऐसे करीब 50 हजार पत्र कलेक्टर की तरफ से ग्रामवासियों को भेजे जाएंगे। जिला पंचायत सीईओ विकास मिश्रा ने बताया कि हर दिन दो हजार पत्र पोस्ट ऑफिस से अलग-अलग ग्रामों के लिए भेजे जाएंगे। इन पत्रों को पोस्ट ऑफिस भेजा गया तो स्वच्छता से जुड़ा मामला होने पर इसे नेक काम बताते हुए अपने वाहनों से पहले दो हजार पत्र तरवाली भिजवाए। पहला पत्र तरावली माता के यहां गया है। पहला पत्र तरावली माता के यहां पहुंचा, हर दिन दो हजार पत्र जिला पंचायत से होंगे रवाना, 50 हजार पत्र भेजने का लक्ष
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.