इंटरव्यू से तय होंगे युवक कांग्रेस चुनाव के उम्मीदवार,

 

दावेदारों ने जताई आपत्ति

- अध्यक्ष पद के दावेदारों को आया फरमान
- सोमवार सुबह होंगे दावेदारों के इंटरव्यू

 

By: Arun Tiwari

Published: 01 Mar 2020, 09:28 PM IST

भोपाल : एआईसीसी के नए फरमान से युवक कांग्रेस के चुनावों पर विवादों का साया मंडराने लगा है। इस फरमान में कहा गया है कि जो भी चुनाव लडऩे के इच्छुक दावेदार होंगे उनको पहले इंटरव्यू देना होगा। ये इंटरव्यू युवक कांग्रेस के लिए बनी स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्य लेंगे। इंटरव्यू की प्रक्रिया सोमवार को पीसीसी कार्यालय में होगी। ये इंटरव्यू प्रदेश अध्यक्ष, प्रदेश महासचिव और जिला अध्यक्ष पद के दावेदारों के लिए अनिवार्य होगा। इंटरव्यू में पास होने के बाद ही दावेदार इन पदों के लिए उम्मीदवारी का फॉर्म भर पाएंगे। इन निर्देशों का युवक कांग्रेस नेताओं ने विरोध किया है। प्रदेश अध्यक्ष पद के दावेदारों का कहना है कि वे सालों से कांग्रेस में काम कर रहे हैं तो फिर इंटरव्यू की आवश्यकता क्या है।

इंटरव्यू के जरिए दमदार नेता की तलाश :
दरअसल एआईसीसी चाहती है कि युवक कांग्रेस के चुनाव के जरिए दमदार नेता निकल कर सामने आएं। कई बार चुनाव के जरिए वे लोग निर्वाचित हो जाते हैं जिनके पास टीम नहीं होती। इंटरव्यू से नेताओं का अनुभव, कार्यशैली, टीम और उसकी क्षमता का आंकलन किया जाएगा। दावेदारों की निष्टा को भी परखा जाएगा।

- हमें ये निर्देश मिले हैं कि इंटरव्यू के बाद ही उम्मीदवारी की पात्रता होगी। हम ये पूछना चाहते हैं कि नए लोगों के लिए तो ठीक है लेकिन जो सालों से काम कर रहे हैं उनके इंटरव्यू क्या आवश्यकता है। हमें इस पर आपत्ति है। - विवेक त्रिपाठी युवक कांग्रेस अध्यक्ष पद के दावेदार -

- हमारा इंटरव्यू लेना है तो विधायकों का भी चुनाव के पहले इंटरव्यू होना चाहिए। हमनें कांग्रेस के लिए सदस्यता कराई है, इंटरव्यू में फेल कर दिया तो फिर चुनाव कैसे लड़ पाएंगे। हमें ये मंजूर नहीं है। - कृष्णा घाडग़े युवक कांग्रेस अध्यक्ष पद के दावेदार -

Arun Tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned