केदारनाथ में तीन साल बाद मिले MP के 19 शव, सैकड़ों अब भी लापता

केदारनाथ में तीन साल बाद मिले MP के 19 शव, सैकड़ों अब भी लापता
kedarnath

Manish Geete | Updated: 01 Jul 2016, 12:44:00 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

केदारनाथ हादसे में लापता हुए मध्यप्रदेश के 19 लोगों के शव मिट्टी में दबे मिले हैं। उत्तराखंड सरकार ने इनकी पहचान के लिए डेथ सर्टीफिकेट जारी किया है। इनमें दो भोपाल के हैं और 6 इंदौर के हैं।


भोपाल। उत्तराखंड के केदारनाथ हादसे में लापता हुए मध्यप्रदेश के 19 लोगों के शव मिट्टी में दबे मिले हैं। उत्तराखंड सरकार ने इनकी पहचान के लिए डेथ सर्टीफिकेट जारी किया है। इनमें दो भोपाल के हैं और 6 इंदौर के हैं। इन मृतकों में भिंड, राजगढ़, छतरपुर, सागर और उज्जैन के श्रद्धालु शामिल हैं।


केदारनाथ हादसे में यह लोग लापता लोगों ने कई बार प्रयास किया, लेकिन मौत की पुष्टि नहीं हो पा रही थी। इसलिए सरकार डेथ सर्टीफिकेट जारी नहीं कर रही थी। हादसे के बाद इन मृतकों के परिजनों ने कई बार धरना प्रदर्शन किया। अब भी सैकड़ों लोग लापता बताए जाते हैं।


मध्यप्रदेश के इन लोगों के शव मिले
इंदौर के 6 मृतकों में इंद्र सिंह पिता ओंकार सिंह, देवकुंवर पत्नी अंतर सिंह सहित नर्मदानंद गिरि, आनंद गिरि, दुर्गानंद गिरि और प्रेमानंद गिरि (सभी के पिता महंत विद्यानंद गिरि) शामिल हैं।

यह हैं भोपाल के दो मृतक
सत्यम श्रीवास्तव पिता पराग श्रीवास्तव और सतीश वर्मा पिता एसपी वर्मा के भी डेथ सर्टीफिकेट जारी किए गए हैं। यह दोनों ही नाम प्रदेश से लापता लोगों की सूची और न ही मृतकों की सूची में थे। इनके परिजन ने भी किसी थाने में गुमशुदगी दर्ज नहीं कराई थी। पिछले एक सप्ताह से जिला प्रशासन इनके परिजनों को ढूंढ रहा है।

सत्यम का पता स्टेट बैंक कॉलोनी जहांगीराबाद दर्ज है, लेकिन तहसीलदार और एसडीएम वहां भी पूछताछ कर चुके हैं। सत्यम या उसके परिजनों के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई। इनके अलावा सतीश का पता MP नगर में दर्ज है, लेकिन उनके भी परिजन प्रशासन को नहीं मिल पाए हैं।

MP के 1032 लोग हैं लापता
केदारनाथ त्रासदी के तीन साल बाद भी MP के 1032 लोग लापता हैं। इनमें से 542 की मौत की पुष्टि कर दी गई थी। लापता लोगों में भोपाल के 24 लोग थे, जिनके डेथ सर्टीफिकेट पहले ही जारी कर दिए गए थे।

सूत्रों के मुताबिक इंदौर और भोपाल जिला प्रशासन इन लोगों की तलाश में जुटा हुआ है। जल्द ही खोज लिया जाएगा। यह प्रशासन उत्तराखंड सरकार के भी संपर्क में है।

एक ही परिवार के 11 लोग लापता
मध्य प्रदेश के सतना जिले से गए एक ही परिवार के 11 लोग भारी बारिश के कारण केदारनाथ की बाढ़ में बह गए। परिवार का सिर्फ एक सदस्य बचा था। नागौद निवासी चंचल अग्रवाल परिवार के 11 सदस्यों के साथ 16 जून को कैदारनाथ में थे। इनमें छह बच्चे भी शामिल हैं। तभी से पूरा परिवार लापता है।
Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned